खेल

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने लिया बड़ा फैसला, जसप्रीत बुमराह के लिए बदल दिए नियम

लालाभाई कॉन्ट्रैक्टर स्टेडियम में गुजरात और केरल के बीच रणजी ट्रॉफी मैच खेला जा रहा है। इस मुकाबले में चोट से वापसी करने वाले गेंदबाज जसप्रीत बुमराह भी खेलने वाले थे, लेकिन आखिरी समय पर वो इस मैच से ‘बाहर’ हो गए। बताया जा रहा है कि बीसीसीआई अध्यक्ष ने बड़ा फैसला लेते हुए बुमराह को इस मैच में ना खेलने की अनुमति दे दी है।

बता दें कि बीसीसीआई का ये नियम है कि जो भी गेंदबाज चोट के बाद वापसी करता है उसे मैच खेलकर अपनी फिटनेस साबित करनी होती है और उसके बाद ही वो भारतीय टीम की प्लेइंग इलेवन का हिस्सा हो सकता है। हालांकि गांगुली ने इस मामले में बुमराह को छूट देते हुए उन्हें सीधे इंटरनेशनल मैच खेलने की इजाजत दे दी है। इसका मतलब यह है कि अब बुमराह सीधे श्रीलंका के खिलाफ टी20 मैच से वापसी करेंगे।

खबरों के मुताबिक कमर की चोट से वापसी कर रहे बुमराह आराम से वापसी करना चाहते हैं। वो नहीं चाहते कि वो वापसी के साथ ही ज्यादा गेंदबाजी करें, ये बात उन्होंने सौरव गांगुली से भी कही, जिसके बाद बीसीसीआई अध्यक्ष ने बुमराह के लिए नियमों को बदलते हुए उन्हें और आराम करने की इजाजत दे दी।

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की कमर में स्ट्रेस फ्रैक्चर हो गया था जिसके चलते वो तकरीबन 4 महीने तक क्रिकेट के मैदान से बाहर रहे। जसप्रीत बुमराह अब सीधे श्रीलंका सीरीज से वापसी करेंगे। खबरों के मुताबिक, जसप्रीत बुमराह केरल के खिलाफ रणजी मैच खेलने के लिए तैयार थे, लेकिन उनका मानना था कि वो मैदान पर वापसी के साथ ही अपने शरीर पर ज्यादा भार नहीं डालना चाहते। इसके बाद बुमराह ने गांगुली और बीसीसीआई सचिव जय शाह से बात की, जिसके बाद दोनों ने बुमराह को सफेद गेंद से खेलने की सलाह दी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक गुजरात की टीम को टीम इंडिया मैनेजमेंट से निर्देश मिले थे कि बुमराह से एक दिन में 8 ओवरों से ज्यादा ना कराए जाएं, लेकिन गुजरात की टीम ऐसे खिलाड़ी को टीम में नहीं चाहती थी जो सिर्फ 8 से 10 ओवर ही फेंक सकता हो। आखिर में गांगुली ने बुमराह को आराम करने की इजाजत दे दी और अब बुमराह श्रीलंका के खिलाफ 5 जनवरी को क्रिकेट के मैदान में वापसी करेंगे।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com