कानपुर

अपनी जगह ज्वाइन करे अधिकारी,जुगाड़ लगाया तो होगी सख्त कार्यवाई  

विकास योजना की समीक्षा के दौरान डीएम ने अपनाया कड़ा रूख

कानपुर। विकास भवन में ग्राम पंचायत विकास योजना की समीक्षा के दौरान उन ग्राम पंचायत अधिकारियों और ग्राम विकास अधिकारियों को डीएम के कठोर रूख का सामना करना पड़ा,जो तबादले के बावजूद अभी तक अपनी पुरानी जगह नहीं छोड रहे हैं। डीएम ने तीन दिन में सभी को अपनी जगह ज्वाइन करने के निर्देश देते हुए किसी तरह का जुगाड़ न लगाने को भी ताकीद किया। यही नहीं,गंगा किनारे के 40 गांवों में विकास की कार्ययोजना को भी तलब किया है।
सोमवार को विकास भवन सभागार में ग्राम पंचायत विकास योजना की समीक्षा करते हुए डीएम डॉ.ब्रह्म देव राम तिवारी ने जुगाड़ लगाने वालों को कठोर परिणाम भुगतने की भी चेतावनी दी। बैठक में जब पता चला कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत 30.63 करोड़ की धनराशि अभी तक ग्राम निधि में रखी पड़ी है तो डीएम ने यहां पर अफसरों को जमकर फटकार लगाई। डीएम ने 17 जनवरी तक हर हालत में यह धनराशि लाभार्थियों के खातों में पहुंचाने को कहा।
बैठक में डीएम ने एडीओ और सचिवों को निर्देशित किया कि प्रधान व सचिव अपना अपना डीएसजी स्वयं प्रयोग करें दूसरे को कदापि न दें। ग्राम पंचायत की पांच लाख तक की कार्य योजना डीपीआरओ कार्यालय और इससे अधिक की जिलाधिकारी से अनुमोदित होगी। डीएम ने कहा कि 16 जनवरी तक सभी की डीएसजी बन जाए और व्यक्तिगत शौचालय की धनराशि लाभार्थियों के खाते में अवश्य पहुच जायए अन्यथा 17 जनवरी से कठोर दंडात्मक कार्यवाई की जाएगी।
loading...
Loading...

Related Articles