Main Sliderराष्ट्रीय

इस ‘अभ्यास गली’ से निकलते हैं टॉपर्स, कहानी कर देगी हैरान

स्‍ट्रीट लाइट की रोशनी में पढ़ते हैं हजारों युवा

मुंबई. अगर मन में कुछ कर गुजरने की ख्‍वाहिश हो तो हर परिस्थिति में इंसान का ध्‍यान अपने लक्ष्‍य पर रहता है। उसका जुनून उसे सोने नहीं देता और वह लगातार अपनी मंजिल को हासिल करने के लिए मेहनत करते हुए उसे आखिरकार पा ही लेता है। ऐसी ही दर्जनों सफलता की कहानियों से भरी है मायानगरी मुंबई की एक गली, जिसे अब सब लोग ‘अभ्‍यास गली’ के नाम से जानते हैं।

इस अभ्‍यास गली में हर वो शख्‍स पढ़ने के लिए आता है जिसके घर में या घर के आस-पास पढ़ाई का माहौल नहीं है। इस गली में मुंबई की झोपड़ पट्टियों से लेकर चॉल में रहने वाले स्‍टूडेंट्स तक पढ़ने के लिए आते हैं।

स्‍ट्रीट लाइट की रोशनी में होती है पढ़ाई

इस गली में पढ़ाई करने वाले आजिंक्‍य गोंडे ने बताया कि यह गली महालक्ष्‍मी स्‍टेशन से पांच किलोमीटर दूर नाका के पास स्थित है। हम सब लोग यहां स्‍ट्रीट लाइट के नीचे पढ़ाई करते हैं। इनमें ज्‍यादातर छात्र वे हैं, जो चॉल या झोपड़ पट्टी में रहते हैं और जिनके यहां पढ़ाई के लिए जगह और माहौल दोनों का अभाव है।

7 बजे लग जाता है जमावड़ा

इस अभ्‍यास गली में पढ़ाकुओं की एक बड़ी फौज अपने सपने पूरे करने के लिए शाम 7 बजे के बाद पढ़ते देखी जा सकती है। हालांकि यहां के स्‍टूडेंट्स की मांग है कि सरकार का यहां फ्री-वाई, सस्‍ते जलपान के केंद्र सहित अन्‍य सुविधाएं देनी चाहिए। हालांकि एक समाजसेवी संंस्‍था ने यहां स्‍ट्रीट लाइटें लगवाने के साथ-साथ दीवारों पर प्रेरणादायक स्‍लोगन भी अंकित करवाए हैं।

loading...
Loading...

Related Articles