परेश का ट्वीट वायरल, कहा- आपका बाप हिंदुस्‍तान का साबित करो…

नई दिल्‍ली. सीएए को लेकर पूरे देश में लोग दो हिस्‍सों में बंट गए हैं। कई इसके समर्थन में है तो कुछ लोग इसका विरोध कर रहे हैं। ऐसे में नागरिकता संशोधन कानून पर बॉलीवुड एक्टर परेश रावल इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव नजर आ रहे हैं। उन्होंने सीएए और देश के समसामयिक मुद्दों को लेकर कई ट्वीट किये हैं  जिसने सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियां भी बटोरी हैं। लेकिन हाल ही में परेश रावल के एक ट्वीट ने लोगों का खूब ध्यान खींचा है।

साबित करो आपका बाप हिंदुस्‍तान का

परेश रावल ने अपने इस ट्वीट में लिखा कि दोस्तों आपको यह साबित करना है कि आपका बाप हिंदुस्तान का है। परेश रावल के इस ट्वीट ने सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियां बटोरी हैं, साथ ही लोग इस ट्वीट पर खूब रिएक्शन भी दे रहे हैं।

परेश रावल ने अपने ट्वीट में लिखा, “दोस्तों, आपको यह साबित नहीं करना कि हिंदुस्तान आपके बाप का है। बल्कि आपको यह साबित करना है कि आपका बाप हिंदुस्तान का है।” बता दें कि अपने ट्वीट के जरिए बॉलीवुड एक्टर ने सीएए (Citizenship Amendment Act) और एनआरसी का विरोध कर रहे लोगों की तरफ इशारा करने की कोशिश की है।

दरअसल, नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन में कई जगह लोगों ने मशहूर राहत इंदौरी की शायरी “सबका खून शामिल हैं इस मिट्टी में, किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है” का इस्तेमाल किया था। ऐसे में एक्टर ने ट्वीट कर लोगों को इसका जवाब दिया है।

एक्टिंग के हैं लाखों फैंस

बॉलीवुड के एक्टर परेश रावल की बात करें तो उन्होंने फिल्मी दुनिया के साथ-साथ राजनीतिक दुनिया में भी अपना सिक्का बखूबी निभाया है। परेश रावल ने बॉलीवुड की कई फिल्मों में विलेन तो कई फिल्मों में कॉमेडियन की भूमिका अदा की है। बेहतरीन कामेडी के लिए परेस रावल काफी मशहूर हैं।

फिल्म ‘ओएमजी’, ‘वेलकम’, ‘हेरा-फेरी’ और ‘संजू’ जैसी फिल्मों में उनकी एक्टिंग को खूब सराहा गया है। जल्द ही बॉलीवुड एक्टर फिल्म हंगामा 2 में भी नजर आने वाले हैं। इस फिल्म में उनके साथ शिल्पा शेट्टी, मीजान जाफरी और प्रणिता सुभाष भी मुख्य भूमिका में दिखाई देंगे।

loading...
Loading...

Check Also

राॅयल क्लब में डाॅ0 सुबोध शर्मा एवं डाॅ0 कैलाश नाथ औदीच्य की स्मृति में सेवानिवृत्त गुरूजनों का किया सम्मान

फर्रूखाबाद। राॅयल क्लब फर्रूखाबाद द्वारा डाॅ0 सुबोध शर्मा एवं डाॅ0 कैलाश नाथ औदिच्य की स्मृति …