बहराइच

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोज़गार योजना से स्वावलंबी बनेंगे ग्रामीण क्षेत्र के शिक्षित बेरोज़गार

बहराइच । जिला ग्रामोद्योग अधिकारी सुधीर दुबे ने बताया कि अपने ही ग्राम मेे उद्योग लगाकर स्वावलम्बी बनने के इच्छुक पाॅलीटेक्निक/आई.टी.आई. उत्तीर्ण, तकनीकी रूप से प्रशिक्षित एवं परम्परागत कारीगरों तथा व्यवसायिक शिक्षा (10$02) के अन्तर्गत ग्रामोद्योग विषय लेकर उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं, गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने नवयुवक-नवयुवतियाॅ जिनकी आयु 19 से 50 वर्ष तक हो ‘‘मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोज़गार योजना’’ के ई-पोर्टल सीएमईजीपी डाट डीएटीए-सीईएनटीईआर डाट सीओ डाट इन पर आन लाइन आवेदन कर सकते हैं।
श्री दुबे ने बताया कि मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोज़गार योजना के तहत रूपये 10 लाख तक के प्रोजेक्ट अनुमन्य हैं जिनमें सामान्य जाति के पुरूष लाभार्थियों को प्रोजेक्ट कास्ट का 10 प्रतिशत का स्वयं का अंशदान तथा टर्मलोन (पूंजीगत ऋण) पर 04 प्रतिशत ब्याज उद्यमी द्वारा तथा शेष ब्याज़ उपादान टर्मलोन पर शासन द्वारा इकाई कार्यरत होने की दशा में बैंकों को आर.टी.जी.एस. के माध्यम से उपलब्ध कराया जायेगा। योजनान्तर्गत आरक्षित वर्ग (अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक, भूतपूर्व सैनिक) तथा सभी वर्ग के महिलाओं को प्रोजेक्ट कास्ट का 05 प्रतिशत का स्वयं का अंशदान तथा टर्मलोन (पूंजीगत ऋण) पर समस्त ब्याज़ उपादान शासन द्वारा इकाई कार्यरत होने की दशा में बैंकों को आर.टी.जी.एस. के माध्यम से उपलब्ध कराया जायेगा।
जिला ग्रामोद्योग अधिकारी ने बताया कि जनपद के लिए निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष 20 प्रतिशत महिलाओं, 03 प्रतिशत दिव्यांग तथा 20 प्रतिशत अल्पसंख्यकों की भागीदारी का प्राविधान किया गया है। ऐसे बेरोज़गार जो खनिज आधारित उद्योग, वनाधरित उद्योग, कृषि आधारित खाद्य उद्योग, बहुलक और रसायन आधारित उद्योग, इंजीनियरिंग और गैर परम्परागत ऊर्जा, वस्त्रोद्योग (खादी को छोड़कर) जिस किसी उद्योग में लगाना चोहते हो तो अपना आन लाइन आवेदन-पत्र ई-पोर्टल के माध्यम से कर सकते हैं।
श्री दुबे ने बताया कि इच्छुक बेरोज़गारों को आवेदन करते समय अपना फोटो, शैक्षिक योग्यता, आधार कार्ड, जाति प्रमाण-पत्र, स्थापित कार्यस्थल के ग्राम प्रधान द्वारा प्रमाणित प्रमाण-पत्र (चैहद्दी), प्रोजेक्ट रिपोर्ट तथा यदि कोई अनुभव हो तो उसकी प्रति भी वेबसाइट पर अपलोड करना होगा। जिला ग्रामोद्योग अधिकारी ने योजना की पात्रता रखने वाले बेरोज़गार शिक्षित नवयुवक-युवतियों से अपील की है कि योजना का अधिकाधिक लाभ उठायें और स्वावलंबी बनकर देश व प्रदेश के विकास में अपना योगदान दें। उन्होंने बताया कि इच्छुक अभ्यर्थी किसी भी कार्य दिवस में जिला ग्रामोद्योग अधिकारी बहराइच के कार्यालय से सम्पर्क योजना के बारे में अन्य जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

loading...
Loading...

Related Articles