लाइफ स्टाइल

Happy Kiss Day 2020: किस डे पर ऐसे बनेगी बात, इस तरह करें प्यार का इजहार

नई दिल्ली I 13 फरवरी  वैलेंटाइन वीक का सातवां दिन है और इसी दिन के साथ ये प्यार भरा हफ्ता ख़त्म होने की ओर बढ़ चला है। जी हां, किस डे के बाद आखिर में आता है वह दिन जिसका सभी को बेसब्री से इंतज़ार होता है, वैलेंटाइन डे।

खैर आज है किस डे और ये प्यार की अभिव्यक्ति का एक ऐसा एहसास है जो साथी के अंतर्मन को करीब से छूता है। खासकर, पहला किस हो तो यह हमेशा के लिए यादगार बन जाता है। किस डे का दिन हर उस कपल के लिए स्पेशल होता है जो पूरी तरह से प्यार में डूबा हुआ है। इस दिन लोग अपने पार्टनर को किस के अलावा गिफ्ट्स और फूल देकर अपने प्यार का इज़हार करते हैं।

अगर आपका प्यार आपसे दूर है और आप उन्हें सोशल मीडिया पर मैसेज या टेक्स्ट भेज किस डे की बधाई देना चाहते हैं तो इसके लिए हम आपको बता रहे हैं ऐसे लेटेस्ट, रोमांटिक, स्पेशल और बेस्ट मैसेज, जिन्हें आप अपने साथी को भेज उनके चेहरे पर मुस्कान ला सकते हैं।

एक शमा अंधेरे में जलाए रखना,

सुबह होने को है माहौल बनाए रखना,

कौन जाने वो किस गली से गुज़रे,

हर गली को फूलों से सजाए रखना…

हैप्पी किस डे!

जब आती है याद तुम्हारी

तो करके आंखे बंद, तुम्हें

मिस कर लेते हैं…मुकालात

रोज हो नहीं पाती, इसलिए

ख्यालों में ही तुम्हें किस करे

लेते हैं।

हैप्पी किस डे!

कैसे हुई किस की शुरूआत?

किस को लेकर आमतौर पर दो थ्योरीज़ हैं। कुछ एंथ्रोपोलोजिस्ट्स का मानना है कि यह कुदरती यानी नैसर्गिग प्रक्रिया है प्रेम या स्नेह को प्रकट करने की। वहीं, कुछ एंथ्रोपोलोजिस्ट्स दूसरा नज़रिया रखते हैं। उनका कहना है कि यह किस फीडिंग से शुरू हुई। दरअसल, किस फीडिंग उस प्रक्रिया या प्रॉसेस को कहा जाता है जब एक मां अपने शिशु को अपने मुंह से भोजन कराती थी। इसमें मां पहले कुछ भोजन अपने मुंह में लेती है। इसके बाद उसे अच्छे से चबाती है और फिर इस चबाए हुए भोजन को आहिस्ता-आहिस्ता बच्चे के मुख में किस की शक्ल में पहुंचा देती है। यह पुराने दौर की बात है और तब किया जाता था जब तक बच्चे अपने दांत से भोजन को चबाने में सक्षम नहीं हो जाते।

loading...
Loading...

Related Articles