राष्ट्रीय

मैं सोच रहा था मै भी शाहीनबाग आऊंगा और स्टेज पर बिरयानी खाऊंगा : अनुराग कश्यप

नई दिल्ली। फिल्मकार अनुराग कश्यप ने कहा, “मैं सोच रहा था आऊंगा और स्टेज पर बिरयानी खाऊंगा। मैं किसी राजनीतिक पार्टी से नहीं हूं। ये बहुत मुश्किल लड़ाई है, धैर्य की लड़ाई है, जो आप लोग लड़ रहे हैं और बहुत लोग जो आपको देख रहें है, वो सोच रहें है कि आप लोग छोड़ कर चले जाएंगे।”

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध प्रदर्शन का केंद्र बन चुके दिल्ली के शाहीन बाग में शुक्रवार (14 फरवरी) को फिल्मकार अनुराग कश्यप ने नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा। दो महीने से चल रहे विरोध प्रदर्शन में यहां प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कश्यप ने कहा, “मैं बहुत दिनों से शाहीन बाग आना चाहता था। आप लोगों से हिम्मत मिलती है, इस हिम्मत से कितने सारे शाहीन बाग बन गए हैं।”

केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए अनुराग कश्यप ने कहा, “मैं सरकार की बहुत सारी चीजों से असहमत हूं। सरकार के पास दिल नहीं है, इनको प्यार की भाषा समझ नहीं आती। बस इसी तरीके से हम लड़ सकते हैं। सरकार से आप बस प्यार बांटते रहिए, सरकार बस ताकत को अपने हाथ मे रखना चाहती है। इन्होंने अपने वादे नहीं निभाए। मैं इन पर विश्वास नहीं करता हूं। भारत सीमाओं से नहीं, यहां के लोगों से बनता है।”

अमित शाह पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, “गृह मंत्री हमें सुरक्षा महसूस नहीं करा सकते, तो किस बात के गृह मंत्री हैं। हमें उनसे सुरक्षा की भावना आनी चाहिए।” उन्होंने कहा कि यदि कोई गलतफहमी है तो सरकार को चाहिए कि शाहीन बाग आए और बात करे, जब तक बात नहीं होगी मामला कैसे सुलझेगा।

कश्यप ने कहा, “सड़क बंद नहीं है, लोग आ जा सकते हैं। लोग मुझसे ट्विटर पर कहते हैं कि गृह मंत्री से सम्मान से बात करूं, लेकिन उनके लिए मेरे मन में सम्मान नहीं है। उन्हें कानून का खुद नहीं पता है। यह सरकार अनपढ़ है।”

loading...
Loading...

Related Articles