पटनाबिहार

बिहार: परीक्षार्थियों के साथ अब शिक्षकों की भी नहीं चलेगी मनमानी

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने सभी जिलाधिकारियों दिए ये निर्देश

पटना | मैट्रिक परीक्षा में बाधा पहुंचाने वाले शिक्षकों की सेवा बर्खास्त कर उनकी जगह नई नियुक्ति की जाएगी। साथ ही शिक्षकों के खिलाफ तुरंत नजदीकी थाने में प्राथमिकी भी की जाएगी। इसको लेकर शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने सभी जिलाधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

जिलों को लिखे पत्र में उन्होंने कहा है कि परीक्षा और मूल्यांकन में बाधा पहुंचाने वाले शिक्षकों की सेवा समाप्त की जाए एवं उस पद को  रिक्त माना जाए। इसके बाद वर्तमान में संचालित नियोजन प्रक्रिया में इन रिक्त पदों को शामिल करें और शिक्षक नियुक्त करें। किन शिक्षकों पर इस तरह की कार्रवाई करनी है, इसका जिक्र भी पत्र में किया गया है। उन शिक्षकों पर कार्रवाई होगी जिनको मैट्रिक परीक्षा में वीक्षण एवं मूल्यांकन में लगाया गया है और जिन्होंने उसमें योगदान नहीं दिया। हड़ताल के समर्थक शिक्षक जो अध्यापन, वीक्षण और मूल्यांकन कार्य से दूसरे शिक्षक को रोक रहे हों उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी। हड़ताल के समर्थक शिक्षक जो शिक्षा विभाग के जिला अथवा प्रखंड स्तरीय कार्यालय को जबरन बंद करा रहे हों वे भी कार्रवाई की जद में आएंगे।

विभाग ने मुख्यालय स्तर पर एक अनुश्रवण कोषांग का भी गठन किया है। जिलों को कहा है कि इस सबंध में कार्रवाई की सूचना कोषांग को उपलब्ध कराएं। डीएम के साथ-साथ सभी नगर आयुक्त, उप विकास आयुक्त व डीईओ को भी यह पत्र जारी किया गया है।

निलंबन हुआ तो आंदोलन तेज : बृजनंदन शर्मा
बिहार राज्य शिक्षक समन्वय समिति के अध्यक्ष बृजनंदन शर्मा ने हड़ताल को पूरी तरह सफल बताया है। कहा कि हमारा मकसद मैट्रिक परीक्षा में बाधा पहुंचाना नहीं है। हम अपने अधिकार की मांग कर रहे हैं। किसी भी शिक्षक पर निलंबन या प्राथमिकी हुई तो आंदोलन तेज किया जाएगा।

शिक्षकों की हड़ताल से स्कूलों में पढ़ाई ठप
प्रदेशभर के करीब चार लाख शिक्षक सोमवार से बेमियादी हड़ताल पर हैं। इससे मैट्रिक परीक्षा में कहीं बाधा नहीं पहुंची, हालांकि शिक्षक संगठनों ने सूबे के करीब 70 हजार स्कूलों में पढ़ाई ठप रहने का दावा किया है। समान काम समान वेतन, सेवानिवृत्ति आयु 65 वर्ष समेत सात सूत्री मांगों के समर्थन में बिहार राज्य शिक्षक समन्वय समिति के बैनर तले शिक्षक आंदोलन कर रहे हैं।

loading...
Loading...

Related Articles