उरई

महिला उत्पीड़न संबंधी मामलों की जानकारी दे आंगनबाडी कार्यकत्री-प्रभा

शासन से मिलने वाली योजनाओं का महिलाओं को प्राथमिकता से दे लाभ

उरई। सदस्य उ0प्र0 राज्य महिला आयोग प्रभा गुप्ता की अध्यक्षता में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन सभागार विकास भवन में महिला उत्पीड़न की रोकथाम एवं पीड़ित महिलाओं को त्वरित न्याय दिलाये जाने के संबंध में जनसुनवाई आयोजित की गयी। सदस्या द्वारा सर्वप्रथम पिछली जनसुनवाई में आये हुये प्रार्थना पत्रों के निस्तारण की अद्यतन जानकारी की जिस पर बताया गया कि जो मामले आये थे उनका निस्तारण कर दिया गया। उन्होने पिछले माह महिला हेल्पलाईन(181) में आये हुये शिकायती पत्रों की समीक्षा की। जिस पर बताया गया कि कुल 06 शिकायती पत्र प्राप्त हुये थे जिसका ससमय निस्तारण कर दिया गया।

जनसुनवाई के दौरान कुल 08 मामले प्राप्त हुये जिसमें घरेलू हिंसा, पारिवारिक उत्पीड़न, मारपीट तथा अन्य प्रकार के मामले प्राप्त हुये। जिसे सदस्या द्वारा गम्भीरतापूर्वक सुनते हुये उसे महिला थानाध्यक्ष को मौके पर जाकर निस्तारित किये जाने के निर्देश दिये। उन्होने महिला हेल्पलाईन (181) को भी निर्देशित करते हुये कहा कि वे मौके पर जाकर इस प्रकार के मामलों को सुलह समझौता के द्वारा निस्तारित किये जाये। उन्होने उपस्थित अधिकारियों से जिसमें अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 सत्यप्रकाश से उनके विभागों द्वारा संचालित योजनाओं के क्रियान्वित के संबंध में भी जानकारी की।

उन्होने जिला कार्यक्रम विभाग को निर्देशित करते हुये कहा कि समस्त आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को प्रत्येक ग्राम स्तर पर पांच सदस्यों की समिति बनायी जाये जो शासन द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में लोगो को अवगत कराये तथा उससे लाभान्वित भी कराये। उन्होने यह भी कहा कि महिला उत्पीड़न संबंधी मामलों के बारे में भी आंगनबाड़ी कार्यकत्री जानकारी दे।

उन्होने जिला पंचायत राज विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होने शौचालय निर्माण की प्रगति तथा अवशेष निर्माण में होने वाली बिलम्बता के कारणों के बारे में भी पूछताछ की तथा यह भी कहा कि कोई भी पात्र लाभार्थी इस योजना से वंचित न रहे। उन्होने जिला समाज कल्याण विभाग की समीक्षा के दौरान पेंशन वितरण तथा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना आदि के बारे में जानकारी की जिस पर बताया गया कि पेंशन वितरण किया जा रहा है तथा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह लक्ष्य के सापेक्ष पूर्ण कर लिया गया हैं।

उन्होने सुमंगला योजना, बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं एवं विधवा पंेंशन के कार्यो की प्रगति की जानकारी की जिस पर संबंधित अधिकारी द्वारा अवगत करा दिया गया। उन्होने महारानी लक्ष्मी बाई सम्मान निधि के बारे में भी जानकारी की जिस पर बताया गया कि 35 पात्र लोगो को प्रदान की गयी। उन्होने यह भी कहा कि महिलाओं से संबंधित जो भी शासन की योजनाये आती है उसे प्राथमिकता के आधार पर महिलाओं को उसका लाभ दिया जाये। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नही की जायेगी। महिला जनसुनवाई में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 सत्यप्रकाश, महिला थानाध्यक्ष नीलेश कुमारी, जिला सूचना अधिकारी के0वी0मिश्र, सी0डी0पी0ओ0 गीता वर्मा सहित अन्य संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

loading...
Loading...

Related Articles