कारोबार

गर्मी आने से पहले बढ़ सकते हैं टेलीविजन, एयर कंडीशनर, रेफ्रिजरेटर, स्मार्टफोन के दाम

नई दिल्ली. अगर आप सोच रहे हैं टेलीविजन, एयर कंडीशनर , रेफ्रिजरेटर  स्मार्टफोन खरीदने की, तो जल्द खरीद ले मार्च से कीमतों में वृद्धि हो सकती है. इन चीजों के महंगी होने की वजह कोरोना वायरस को बताया जा रहा है. कोरोना वायरस  से प्रभावित चीन से आयात होने वाले कम्पोनेंट्स और फिनिश्ड प्रॉडक्ट्स की कमी से चीजें महंगी हो सकती हैं. इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स के मुताबिक कंपनियां डिस्काउंट और प्रमोशनल ऑफर्स घटा रही हैं जिस वजह से लोगों को प्रोडक्ट की कीमतें 3-5 फीसदी तक ज्यादा चुकानी होंगी. टेलीविजन जैसे कुछ प्रॉडक्ट्स के दाम 7-10 फीसदी तक बढ़ सकते हैं.

कंसाइनमेंट्स में देरी
चीन से आने वाले सभी कंसाइनमेंट में देर हो रही है. जिस वजह से 3-5 फीसदी कीमत बढ़ना तय है.  सप्लाई में बाधा आ रही है तो डिस्काउंट और ऑफर का खत्म होना तो तय है. स्मार्टफोन इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स ने डिस्काउंट्स और प्रमोशंस में कमी आने का संकेत दिया है, जिससे सप्लाई नॉर्मल होने तक कुछ मॉडल्स की कीमत बढ़ सकती है. इंडस्ट्री के एग्जिक्यूटिव्स ने कहा कि चीन में आने-जाने पर लगी बंदिशों के कारण कामगार चाइनीज न्यू ईयर की लंबी छुट्टियों के बाद कारखानों में नहीं पहुंच पा रहे हैं और कारखाने 30-60 प्रतिशत क्षमता से ही चल रहे हैं. उन्होंने कहा कि कम से कम तीन हफ्तों का प्रोडक्शन प्रभावित हुआ है.

आईफोन की सप्लाई में आई कमी 
एपल ने सोमवार रात को रिवाइज्ड इनवेस्टर गाइडेंस जारी कर बताया कि दुनियाभर में आईफोन की सप्लाई अस्थायी तौर पर बाधित रहेगी क्योंकि चीन में कंपनी के मैन्युफैक्चरिंग पार्टनर्स पहले के अनुमान के मुकाबले सुस्त रफ्तार से उत्पादन बढ़ा रहे हैं. इंडस्ट्री के दो एग्जिक्यूटिव्स ने बताया कि भारत में एपल डिस्ट्रिब्यूटर्स अपने महत्वपूर्ण ट्रेड पार्टनर्स को आईफोन की कमी का संकेत दे चुके हैं और इस समस्या के अगले एक महीने तक बरकरार रहने की आशंका है. एपल के एक एक्सक्लूसिव रिटेलर ने बताया कि आईफोन की कमी के चलते अगले कुछ दिनों तक ईकॉमर्स प्लेटफॉर्म्स और स्टोर्स पर डिस्काउंट मिलना बंद हो सकता है. एपल इंडिया ने इस संबंध में सवालों के जवाब नहीं दिए.

जापानी एसी कंपनी डायकिन ने रिटेलरों को बता दिया है कि वह फरवरी से सेल्स सपोर्ट अमाउंट घटाकर कीमत 3-5 प्रतिशत बढ़एगी. सेल्स सपोर्ट अमाउंट को डिस्काउंट की तरह दिया जाता है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक एक्सचेंज रेट में बदलावों, कंप्रेसर पर हाल में ड्यूटी बढ़ाए जाने और कोरोना वायरस के कारण चीन ही नहीं, थाइलैंड और मलयेशिया से भी सप्लाई में बाधा आने के कारण ऐसा करना पड़ेगा.

loading...
Loading...

Related Articles