मध्य प्रदेशराष्ट्रीय

अधिक विद्युत देयक के प्रकरणों का समय-सीमा में निराकरण करने के निर्देश : ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह

वेयर हाउस का भूमि-पूजन उप-स्वास्थ्य केन्द्र भवन का लोकार्पण किया

उमेश्वरी त्रिपाठी(तरुण मित्र }
भोपाल/राजगढ़// : 20 फरवरी, ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने राजगढ़ जिले की खिलचीपुर तहसील के विभिन्न ग्रामों में चार करोड़ से अधिक की लागत के विभिन्न निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन/लोकार्पण किया। उन्होंने ग्राम धामनिया जोगी में 2 करोड़ 6 लाख की लागत के और ग्राम डालूपुरा में एक करोड़ 62 लाख की लागत के 33/11 के.व्ही. नवीन विद्युत ग्रिड उपकेन्द्र, ग्राम पीपल्या कला में 57 लाख की लागत के वेयर हाउस का भूमि-पूजन और पीपल्या कला में ही 24 लाख की लागत के उप-स्वास्थ्य केन्द्र भवन का लोकार्पण किया।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि जिले में 13 और संसदीय क्षेत्र में 22 विद्युत ग्रिड पहली बार एक साथ स्वीकृत किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जिन ग्रिड़ों का भूमि-पूजन आज किया गया है उनका निर्माण 30 जून तक पूरा कर लिया जाएगा। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में 5 हजार से अधिक मेगावाट बिजली का उत्पादन कर कीर्तिमान स्थापित किया गया है। इंदिरा गृह ज्योति योजना में एक करोड़ से अधिक बिजली उपभोक्ता लाभान्वित हो रहे हैं। किसानों के बिजली के बिल भी आधे किए गए हैं। उन्होंने बताया कि जिले में 30 गौ-शालाओं का निर्माण शुरू किया गया है। इस दौरान राजगढ़ विधायक बापूसिंह तंवर सहित अन्य जन-प्रतिनिधियों ने भी विचार व्यक्त किए।
ऊर्जा मंत्री ने तकनीकी गड़बड़ी के कारण अधिक विद्युत देयक के प्रकरणों का समय-सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने तीनों विद्युत वितरण कंपनियों के अधिकारियों से कहा है कि उपभोक्ता को बिलिंग में आ रही दिक्कतों को जल्द से जल्द दूर करें। ज्ञातव्य है कि जिले के छापीहेड़ा में उपभोक्ता मांगीलाल के घरेलू कनेक्शन का बिल अधिक आने की जानकारी ऊर्जा मंत्री के संज्ञान में लाई गई थी। ऊर्जा मंत्री ने संबंधित अधिकारियों को प्रकरण का तत्काल निराकरण करने को कहा। उपभोक्ता को संशोधित बिल जारी किया गया, जिसे उपभोक्ता ने जमा कर दिया है।

loading...
Loading...

Related Articles