Main Sliderउत्तर प्रदेश

योगी: केवल स्कूली पाठ्यक्रम तक सीमित नहीं रहनी चाहिए शिक्षा

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ [Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath] ने कहा है कि सर्वांगीण विकास के लिये छात्र छात्राओं [Student girls] को केवल स्कूली पाठ्यक्रम तक सीमित नहीं रहनी चाहिए।योगी ने शुक्रवार को यहां एस0वी0एम0 पब्लिक स्कूल [SVM Public School] में महन्त अवेद्यनाथ जी महराज स्मृति सभागार का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि पर्व के दिन छुट्टी छात्र-छात्राओं के सर्वांगीण विकास में सहायक ऊर्जा को बाधित करती है। राज्य सरकार ने महापुरुषों की जयन्ती आदि पर होने वाले अवकाश को समाप्त किया गया। इन महत्वपूर्ण दिवसों पर सम्बन्धित महापुरुष के बारे में विद्यार्थियों को जानकारी दिए जाने के लिए कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षा केवल स्कूली पाठ्यक्रम तक सीमित नहीं रहनी चाहिए। छात्र-छात्राओं को अन्य विषयों की भी पूरी जानकारी प्राप्त होनी चाहिए। इस अवसर पर उन्होंने लोगों को महाशिवरात्रि पर्व की बधाई दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह क्षेत्र पूर्व में मानीराम विधानसभा के नाम जाना जाता था, जहां से ब्रम्हलीन महन्त अवेद्यनाथ जी पांच बार विधायक तथा गोरखपुर के चार बार सांसद भी रहे। उनके नाम से सभागार बनाना उनके प्रति श्रद्धांजलि है। इस क्षेत्र में कई विद्यालय खुल गये है, यह सभी विद्यालय एक-दूसरे से स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के साथ छात्र-छात्राओं को अच्छी शिक्षा प्रदान करने में सहायक होंगे।

उन्होंने कहा कि परिस्थिति से डर कर पलायन नहीं करना चाहिए। बल्कि परिस्थितियों का सामना कर आगे बढ़ना चाहिए और अवसर का लाभ उठाना चाहिए। दुनिया बहुत विराट है, इसमें अपनी जगह बनाना एक चुनौती है। डिग्री प्राप्त करना विद्यार्थी के लिए आवश्यक है लेकिन देश व समाज के लिए भी कार्य करना चाहिए। उन्होंने कहा कि तकनीक से दूर न हों, बल्कि उसे अपने जीवन का हिस्सा बनायें।

योगी ने पीपीगंज में निर्माणाधीन महन्त अवेद्यनाथ जी महराज स्टेडियम का निरीक्षण कर कार्यों की गुणवत्ता को देखा और कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिये।

loading...
Loading...

Related Articles