लाइफ स्टाइल

डायबिटीज, मासिक धर्म जैसी परेशानियों को करना है दूर, तो आज हीे से शुरू कर दें हल्दी का सेवन

आपको बता दें कि हल्‍दी  सैकड़ों गुणों से भरपूर होती है इसलिए कई विकारों के इलाज में इसका उपयोग किया जाता है। आइये जानते हैं कि हल्दी के फायदे क्या हैं।

हृदय रोग दूर करने में हल्दी के फायदे – Turmeric Prevents Heart Diseases in Hindi

हल्दी में ऑक्सीकरण रोधी (antioxidant) गुण पाया जाता है और यह हृदय को कई रोगों से बचाने में मदद करता है। हल्दी कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है और हृदय की सेहत को ठीक रखने में सहायक होता है। रिसर्च के मुताबिक प्राचीन काल से ही हल्दी का उपयोग सीने के दर्द को ठीक करने में किया जाता है। हल्दी अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है और हृदय को कई बीमारियों से बचाता है। नियमित हल्दी का सेवन करने से रक्त का प्रवाह बेहतर होता है और हृदय रोग नहीं होते हैं।

कैंसर से बचाने में हल्दी लाभदायक – Turmeric For Cancer in Hindi

एक स्टडी में पाया गया है कि हल्दी में जो यौगिक मौजूद होता है उसमें कैंसररोधी गुण पाये जाते हैं। 100 से 200 मिलीग्राम हल्दी का प्रतिदिन सेवन करने से कैंसर होने की संभावना कम हो जाती है। कैंसर के रोगियों को हल्दी का सेवन करने से उनके इम्यून सिस्टम के रसायन कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए अधिक सांद्र हो जाते हैं। हल्दी कैंसर को बढ़ने से रोकता है और कीमोथेरेपी को अधिक प्रभावी बनाने में मदद करता है।

डायबिटीज के इलाज में हल्दी के फायदे – Turmeric For Diabetes Treatment in Hindi

हल्दी में मौजूद कुरकुमिन ब्लड में ग्लूकोज के स्तर को कम करता है और डायबिटीज होने से शरीर की रक्षा करता है। 9 महीनों तक लगातार हल्दी का प्रतिदिन सेवन करने से व्यक्ति को डायबिटीज होने की संभावना कम होती है। यह टाइप-1 डायबिटीज के रोगियों के इम्यून सिस्टम को अतिसक्रिय बनाता है और इस रोग के लक्षणों को कम करता है। इसके अलावा हल्दी डायबिटीज से जुड़ी लीवर की बीमारियों को भी खत्म कर देता है। 6 ग्राम हल्दी का सेवन रोज करने से इंसुलिन का स्तर भी बढ़ता है। इस तरह हल्दी डायबिटीज रोगियों के लिए रामबाण की तरह काम करता है।

हल्दी के फायदे स्किन के लिए – Haldi Benefits For Skin in Hindi

आपको बता दें कि हल्‍दी कई तरह से त्वचा के देखभाल के लिए फायदेमंद होता है। यह पिंपल पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मारता है और सिबेसियस ग्लैंड से ऑयल के स्राव को कम करता है जिसकी वजह से त्वचा पर मुंहासे नहीं होते हैं। हल्दी मुंहासे के दाग धब्बों को भी दूर करता है। हल्दी में कुरकुमिन (curcumin) नाम का यौगिक पाया जाता है और यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो बढ़ती उम्र के लक्षणों को दूर करने में सहायता करता है। ज्यादातर घरों में घरेलू नुस्खों के रूप में त्वचा पर निखार लाने के लिए हल्दी का उपयोग किया जाता है।

वजन घटाने में हल्दी के फायदे – Haldi for Weight Loss in Hindi

हल्दी शरीर के मेटाबोलिक रेट को बढ़ाने में मदद करता है जिसकी वजह से शरीर की अतिरिक्त कैलोरी घटने लगती है और कैलोरी घटने से वजन भी कम होने लगता है। हल्दी लीवर के लिए भी फायदेमंद होता है। हल्दी में मौजूद कुरकुमिन (curcumin) नाम का यौगिक कोलेस्ट्रॉल को घटाता है और यह मांसपेशियों के लिए मसाज के रूप में काम करता है और शरीर के सूजन को दूर करता है। जब शरीर में किसी तरह का सूजन नहीं होता है तो वजन घटाना काफी आसान हो जाता है।

हल्दी के लाभ डिप्रेशन में – Turmeric Treats Depression in Hindi

एक रिसर्च में यह पाया गया है कि हल्दी शरीर में हार्मोन के संतुलन को बेहतर बनाता है और यह डिप्रेशन, मूड स्विंग और चिंता एवं तनाव को कम करने में बहुत मदद करता है। इसलिए डिप्रेशन से गुजर रहे व्यक्तियों को हल्दी का सेवन किसी न किसी रूप में जरूर करना चाहिए।

हल्दी के फायदे मासिक धर्म में – Haldi Treats Menstrual Issues in Hindi

अगर आपको मासिक धर्म में बेचैनी होती है तो इस स्थिति में हल्दी का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके अलावा मासिक धर्म के दौरान ऐंठन, सूजन, अत्य़धिक रक्तस्राव और मूड स्विंग होने जैसी परेशानियों को भी हल्दी तुरंत ठीक कर देता है। हल्दी जड़ी-बूटी का काम करती है और माहवारी के दौरान सभी लक्षणों को दूर करने में बहुत उपयोगी होती है।

हल्दी के गुण दर्द निवारक के रूप में – Haldi As A Natural Painkiller in Hindi

आपको बता दें कि हल्‍दी प्राकृतिक दर्दनिवारक (painkiller) का भी काम करता है। यह अर्थराइटिस के दर्द से निजात दिलाने में भी बहुत सहायक है। हल्दी सर्कुलेशन को भी बेहतर बनाने में मदद करता है जो कि दर्द से राहत दिलाने में फायदेमंद होता है। दो चम्मच हल्दी को पानी में मिलाकर पेस्ट बनाकर प्रभावित जगह पर लगाने से दर्द और सूजन कम हो जाती है।

फटी एड़ियों के लिए हल्दी है फायदेमंद – Turmeric For Cracked Feet in Hindi

हल्दी के कसैले गुण के कारण यह पैरों की फटी एडियों को ठीक करने में बहुत सहायक होता है। अरंडी के तेल (castor oil) में बराबर मात्रा में कोकोनट का तेल मिलाएं और इसमें एक चम्मच हल्दी मिलाकर इस पेस्ट को पैरों की फटी एड़ियों पर 15 मिनट तक लगाकर रखें फिर ठंडे पानी से धो लें। जल्द ही फर्क महसूस होगा।

हल्दी के फायदे रूसी के लिए – Turmeric Treat Dandruff in Hindi

ऑलिव ऑयल में हल्दी मिलाकर बालों में लगाने से बालों में रूसी की समस्या खत्म हो जाती है और बाल जड़ से मजबूत होते हैं। (haldi for hair in hindi) हल्दी और ऑलिव ऑयल को बराबर मात्रा में मिलाकर सिर में अच्छे से लगाएं और 20 मिनट बाद बालों में शैंपू कर लें, रूसी से निजात मिल जाएगी।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com