Main Sliderलखनऊ

कण्ट्रोल रूम में कार्यरत कर्मी कॉलर से अतिविनम्रता व शालीनता से बात करें : योगी

मुख्यमंत्री ने यूपी भवन में स्थापित कण्ट्रोल रूम का किया औचक निरीक्षण

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लॉकडाउन से उत्पन्न परिस्थितियों के दृष्टिगत प्रदेश के निवासियों की समस्याओं के निराकरण हेतु नई दिल्ली स्थित उत्तर प्रदेश भवन में स्थापित कण्ट्रोल रूम का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने निर्देश दिए कि दिल्ली या अन्य प्रदेशों में रहने वाले उत्तर प्रदेश के निवासियों की फोन कॉल्स को पूरी संजीदगी से लिया जाये तथा उनकी कठिनाइयों का हर सम्भव निराकरण किया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि कॉलर को आश्वस्त किया जाये कि दिल्ली या जहां पर भी वह रह रहा है, वहां से बाहर जाने में कोरोना वायरस से उसकी जान को खतरा है, अतः उसके ठहरने, खाने, व उपचार की पूरी व्यवस्था उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा की जा रही है और उसकी सभी समस्याओं का समाधान यहीं पर किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के निवासियों के ठहरने के लिए यदि अतिरिक्त आवासीय परिसरों की आवश्यकता हो तो नोएडा/ग्रेटर नोएडा प्राधिकरणों की मदद से उन्हें चिन्हित कर उसकी व्यवस्था कर ली जाये। उन्होंने कण्ट्रोल रूम में कार्यरत कर्मियों से कॉलर से अतिविनम्रता व शालीनता से बात करने को कहा। इससे पूर्व, नोडल अधिकारी एवं ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री नरेंद्र भूषण ने बताया कि आज सायं तक करीब 3,000 टेलीफोन कॉल्स विभिन्न प्रदेशों से प्राप्त हुई हैं। सबसे अधिक कॉल्स दिल्ली, हरियाणा एवं उत्तर प्रदेश से प्राप्त हुई हैं। उन्होंने बताया कि सभी कॉलर्स की समस्याओं का समुचित समाधान किया जा रहा है।
इस अवसर पर स्थानिक आयुक्त उत्तर प्रदेश प्रभात कुमार सारंगी ने बताया कि कण्ट्रोल रूम 24ग7 कार्यरत है तथा संवेदनशील एवं कर्मठ कर्मचारियों की 08-08 घंटे की ड्यूटी लगायी गयी है। उनके स्वयं के द्वारा भी प्रत्येक कॉल की मॉनीटरिंग की जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि कण्ट्रोल रूम के हेल्प लाइन नम्बर 011-26110151, 26110778, 26111762, 26110052, 26110155 तथा वॉट्सएप नम्बर 9313434088 है।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com