बिजनौर

मस्जिद में मिले 8 विदेशी धर्म प्रचारक, आइसोलेटेड

बिजनौर। कोरोना जैसी महामारी को लेकर जहां देश के प्रधानमंत्री ही नहीं बल्कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और जिला प्रशासन के अधिकारी बार-बार लोगों को सोशल डिस्पेंसिंग के लिए जहां जागरूक कर रहे हैं। उसके बावजूद भी कुछ लोग धर्म की आड़ में मौत का खुला खेल, खेल रहे हैं। तबलीगी जमात के 8 धर्म प्रचारक दिल्ली से उड़ीसा और उड़ीसा से नगीना 21 मार्च को बिजनौर जनपद की जामुन वाला मस्जिद में धर्म प्रचार के लिए पहुंचे थे। लगातार जिला प्रशासन व सरकारों के अपील के बाद भी विदेशी नागरिकों की सूचना न देने पर पुलिस ने इन सभी जमात के आठ विदेशी धर्म प्रचारक को जहां मस्जिद से बरामद किया है। तो वहीं इन लोगों सहित मस्जिद के सभी 5 सदस्यों के खिलाफ पुलिस ने महामारी अधिनियम व अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है। इन सभी को स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम आइसोलेट किया गया है।

दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के 200 से ज्यादा विदेशी धर्म प्रचारक दिल्ली पहुंचे थे। यह धर्म प्रचारक अलग-अलग जनपदों में धर्म प्रचार करने के लिए निकले हुए थे। इसी कड़ी में इंडोनेशिया के 8 धर्म प्रचारक कुछ दिन पहले दिल्ली से उड़ीसा गए थे और उड़ीसा से वह बिजनौर जनपद के नगीना थाना क्षेत्र के जामुन वाली मस्जिद में प्रचार करने के लिए पहुंचे थे।
वहीं इस महामारी को लेकर लगातार प्रशासन व प्रदेश सरकार सहित देश की सरकार द्वारा विदेशों से आए लोगों के लिए अपील थी कि वह बताएं कि वह विदेश यात्रा करके लौटे हैं। लेकिन इन तबलीगी जमात के आठ विदेशी धर्म प्रचारक द्वारा जिला प्रशासन को सूचना न देने पर सूचना पर पहुंची पुलिस ने इन सभी 8 इंडोनेशिया धर्म प्रचारक को पकड़ कर इन्हें होम आइसोलेट कर दिया है। साथ ही सूचना न देने पर पुलिस द्वारा जमात व मस्जिद के पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। जिसमें मस्जिद के मुफ़्ती,मौलवी, ट्रांसलेटर इन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।
पुलिस ने 188, 268, 270 आईपीसी व महामारी अधिनियम के तहत इन लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मस्जिद व आसपास की जगह को सैनिटाइज कराया जा रहा है।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com