Wednesday, December 2, 2020 at 6:32 PM

वायरस के संक्रमण से बचाव व असहाय के मदद के लिए रेलकर्मियों ने मुडियार ग्राम को लिया गोद

डेहरी ऑन सोन( रोहतास) – पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल मंडल के संकेत एवं दूरसंचार विभाग के रेलकर्मियों ने सेवाभाव का बेहतरीन उदाहरण पेश करते हुए आज डेहरी अनुमंडल के मुडियार ग्राम को गोद लिया और शारीरिक दूरी बनाते हुए कोरोनावायरस के खतरे से लोगों को बचाने के लिए जरूरी संसाधन जैसे, मास्क, साबुन तथा असहाय एवं बेबस लोगों के घर घर जाकर चावल, दाल, आलू जैसे खाद्य पदार्थों की वितरण जिला प्रशासन तथा जिला पुलिस के उपस्थिति में किया।

डीडीयू रेल मंडल के संकेत एवं दूरसंचार विभाग के रेलकर्मियों ने कहा कि यह हमारे रेल मंडल की एक छोटी सी प्रयास है कि त्रासदी की इस दौर में कोई भी भूखा नहीं रहें। हम रेलकर्मी इस गांव को लॉकडाउन के अवधि यानी 14 अप्रैल तक संकमण से लोगों को बचाने के लिए जरूरी सभी संसाधन मुहैया कराएंगे तथा सभी असहाय और बेबस लोगों को खाद्य सामग्री की लगातार आपूर्ति की जाएगी।अगर आवश्यक महसूस हुई तो इस गांव के सभी लोगों का थर्मल स्क्रीनिंग भी कराया जाएगा। तथा लॉकडाउन के नियमों की अनदेखी होने पर ड्रोन कैमरे से गांव की निगरानी भी की जा सकती है ताकि कोई भी आदमी 14 अप्रैल तक घर से इमर्जेंसी छोड़कर बाहर नही निकले।प्रधानमंत्री के आह्वान का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित हो कराना हमारा दायित्व होगा।

वहीं रेलकर्मियों के इस पहल की चौतरफा तारीफ हो रही है। स्थानीय सांसद महाबली सिंह, स्थानीय विधायक ई सत्यनारायण यादव, विधानपार्षद संतोष कुमार सिंह, पूर्व मध्य रेल हाजीपुर के जोनल परामर्शदात्री समिति के सदस्य राजेंद्र सिंह उर्फ भोला सिंह, मनीष कुमार, बसंत राय, जिला परिषद् के अध्यक्ष नथुनी पासवान, ब्लॉक प्रमुख संतोष कुमार, चैम्बर आफ कॉमर्स के अध्यक्ष बबल कश्यप, अनुमंडल विविध संघ के पूर्व अध्यक्ष मुटुर पांडेय, प्रखंड विकास पदाधिकारी कुंदन कुमार, थाना प्रभारी अनिल कुमार सहित अनेकों जनप्रतिनिधि तथा स्वयंसेवी संस्थाओं ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल मंडल के इन रेलकर्मियों के प्रयासों का जमकर तारीफ करते हुए कहा कि इनकी जितनी भी प्रशंसा की जाय, वह कम है। इससे बढ़िया सेवाभाव का और उदाहरण नहीं हो सकता। रेलकर्मियों ने अपनी जान को जोखिम में डालकर गुड्स ट्रेनों की परिचालन के साथ साथ आमजनों के जीवन पहिया को भी चलाने की कवायद शुरू करना, देश के सामने सेवाभाव का एक बेहतरीन उदाहरण पेश किया है जो सबके लिए प्रेरणास्रोत का काम करेगा।

क्या कहते हैं रेलकर्मी।
डीडीयू रेल मंडल के संकेत एवं दूरसंचार के रेलकर्मियों का कहना है कि माननीय प्रधानमंत्री एवं माननीय रेलमंत्री की देश से मार्मिक अपील तथा पूमरे के महाप्रबंधक तथा डीडीयू के रेल प्रबंधक के मार्गनिर्देशन और सीनियर डीएसटीई के नेतृत्व से प्रेरित होकर हम रेलकर्मियों ने लोगों को इस वायरस से बचाने तथा असहाय और बेबस लोगों को खिदमत करना का एक छोटा सा प्रयास शुरू किया है। बस आमजनों से निवेदन है कि हम आप सभी के लिए अपनी जान जोखिम में डालकर सेवाएं दे रहे हैं। आप सभी अपने अपने घरों में बने रहें।

loading...
Loading...