Main Sliderउत्तर प्रदेश

लॉकडाउन के बीच 1.5 करोड़ किसानों के लिए राहत, भेजे गए सम्मान निधि के 2 हजार रुपए

लखनऊ। कोरोना लॉकडाउन के बीच यूपी के डेढ़ करोड़ से अधिक किसानों के लिए राहत भरी खबर है। किसान सम्मान निधि की इस वित्तीय वर्ष की पहली किस्त जारी कर दी गई है। अगले 2 से 3 दिन के भीतर आधार से जुड़े प्रदेश के सभी पंजीकृत किसानों के खाते में 2000 रुपये पहुंच जाएंगे। कृषि विभाग की ओर से सम्मान निधि के लिए 3060 करोड़ रुपए डीबीटी के माध्यम से किसानों के खातों में डालने के लिए जारी कर दिए गए।

प्रदेश के एक करोड़ 53 लाख किसानों के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की इस वर्ष के पहली चौमाही की पहली किस्त जारी कर दी गई है। कृषि विभाग ने किसानों के खाते में डीबीटी के माध्यम से प्रति किसान 2000 जमा करने के लिए 3060 करोड़ रुपए जारी कर दिए। 2 दिन पूर्व 31 मार्च को भी विभाग ने 25 लाख किसानों के खाते में कुल 500 करोड़ भेजे थे। यह राशि पिछले वित्तीय वर्ष के तीसरे चौमाही की किस्त थी।

विभागीय अधिकारियों के अनुसार प्रदेश के पंजीकृत किसानों को आधार से लिंक किया जा रहा है जितने किसान आधार से लिंक हो चुके हैं उन सब के खातों में डीबीटी के माध्यम से जमा करने के लिए पैसे जारी कर दिए गए हैं। इस राशि का भुगतान जुलाई आज तक दिया जाना है लेकिन कोरोना वायरस के महामारी को देखते हुए इसे सरकार ने वित्तीय वर्ष के पहले सप्ताह में ही जारी करने का निर्णय किया है अधिकारियों का कहना है जैसे-जैसे पंजीकृत किसान आधार से लिंक होते जा रहे हैं वैसे वैसे उनके खातों में किस्त की राशि भेजी जा रही है। विभागीय अधिकारियों ने बताया की पूरे देश में अभी 6 करोड़ किसानों के खाते में डीबीटी के माध्यम से सम्मान निधि का भुगतान किया गया है उनमें से डेढ़ करोड़ किसानों के खाते में किस्त की राशि भेजने वाला यूपी सबसे बड़ा प्रदेश है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की पात्रता के लिए जरूरी मानक
1. जो सरकारी नौकर ना हो।
2. पेंशन 10 हजार रूपये से अधिक ना हो।
3. वैधानिक पद धारक ना हो।
4. आयकर दाता ना हो।
5. रजिस्टर्ड प्रोफेशनल भी ना हो।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com