हरदोई

सामान्य मरीजों के लिए ओपीडी नहीं होगी परन्तु इमरजेन्सी मरीज देखे जायेगें- पुलकित खरे

निजी चिकित्सालय वार्ता के बाद भी निर्देशों का पालन न करें तो उनके विरुद्ध कार्यवाही करें-डीएम

चिकित्सालय के चिकित्सा एवं उपचार हेतु प्रयोग होने वाले उपकरणों को क्रियाशील रखें-जिलाधिकारी

हरदोई-जिलाधिकारी पुलकित खरे ने अवगत कराया कि शिकायतें प्राप्त हो रही है कि लाॅकडाउन के दौरान कुछ निजी चिकित्सालयों द्वारा अपने चिकित्सालय या तो बन्द कर दिये गये हैं या उनके द्वारा अधिकांश मरीजों को देखा नहीं जा रहा है। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी से कहा कि लाॅकडाउन के दौरान निजी चिकित्सालयों को खोलने की व्यवस्था करायें तथा चिकित्सालय प्रबन्धकों को निर्देश दे कि चिकित्सा एवं उपचार हेतु प्रयोग होने वाले उपकरण को क्रियाशील रखें तथा चिकित्सकों एवं स्टाफ की एक निश्चित अवधि के लिए उपस्थिति सुनिश्चित करें और दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता बनाये रखें तथा मरीजों को देखते समय सोशल डिस्टेन्सिंग का अनिवार्य रूप पालन करें और यदि कोई निजी चिकित्सालय वार्ता के बाद भी उपरोक्त निर्देशों का पालन नहीं करता है तो समुचित प्रावधानों के अन्तर्गत उनके विरूद्व कार्यवाही करें।उन्होने कहा कि सभी निजी चिकित्सालय न्यूनतम स्टाफ के साथ खोले जाये चिकित्सकों द्वारा होम विस्ट कर भी मरीजों को देखा जायेगा एवं मरीजों को टेलीफोन के माध्यम से परामर्श भी दिया जायेगा, निजी चिकित्सालय में कार्यरत डाक्टर, नर्स एवं सहयोगी स्टाफ केवल चिकित्सीय कार्य हेतु पहचान पत्र का प्रयोग कर आवागमन कर सकेगें और निजी चिकित्सालयों में सामान्य मरीजों के लिए ओपीडी नहीं होगी परन्तु इमरजेन्सी केसेज देखे जायेगें।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com