उत्तर प्रदेश

सील इलाकों में कर्फ्यू जैसे होंगे हालात: डीजीपी

अपर मुख्य सचिव गृह व डीजीपी ने प्रेस कांफ्रेंसिंग कर स्थिति स्पष्ट की

लखनऊ। प्रदेश के 15 जनपदों में कर्फ्यू की अफवाह फैलते ही लखनऊ सहित अन्य जिलों में हड़कंप मच गया। लोग झोला और थैला लेकर बाजारों की भागने लगे। सब्जी पर राशन की दुकानों पर भारी भीड़ जुटने लगी। जिसके तत्काल बाद अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी और डीजीपी हितेश चन्द्र अवस्थी ने आनन-फानन एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंसिंग कर स्थिति स्पष्ट की। डीजीपी ने बताया कि घोषित 15 जनपदों में केवल उन्हीं थाना क्षेत्रों में कर्फ्य जैसी स्थिति रहेगी, जो इलाके कोरोना संक्रमण के लिए हाॅटस्पाट घोषित किए गए हैं। बाद क्षेत्रों में पूर्व की भांति लाॅकडाउन जारी रहेगा। हां लेकिन लाॅकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा।

इन जनपदों में बाहरी जनपदों से आवाजाही पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगी। डीजीपी ने कहा कि यह सील 14 अपै्रल तक ही लागू रहेगा। आगे की स्थिति बाद में स्पष्ट की जाएगी। डीजीपी ने बताया कि प्रदेश भर के कोरोना संक्रमण के लिए संवेदनशील इलाकों को इंटेंसिव लॉग डाउन (पूर्ण प्रतिबंध) में लाया जाएगा। ताकि संक्रमण को रोका जा सके। इन इलाकों को फायर सर्विस की गाड़ियां लगाकर सैनिटाइज किया जाएगा। हाॅट स्पाट इलाकों में जारी पास निस्त किए जाएंगे। मेडिकल टीम और पुलिस के अलावां इन क्षेत्रों में किसी को भी घरों से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा। लोगों के जरूरत का सामान उनके घरों में पहुंचाया जाएगा। लोग घरों से बाहर निकलकर यह सुविधाएं नहीं लेंगे। सभी घरों में स्वास्थ्य विभाग की टीम लोगों के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी जुटाएगी। हाॅट स्पाट इलाकों को चिन्हित कर ट्रैफिक के लिए जीरो जोन बना दिया जाएगा और बैरिकेडिंग कर दी जाएगी।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि हॉट स्पॉट इलाकों में आवश्यक वस्तुएं लोगों के घर पहुंचाई जाएंगी। इन इलाकों में लाॅकडाउन के दौरान मिल रही छूट भी खत्म हो जाएगी। 15 जिलों के हाॅट स्पाॅट इलाकों में लोग दूध और दवा लेने भी नहीं निकल पाएंगे। हाॅट स्पाॅट इलाकों के अतिरिक्त अन्य क्षेत्रों में लाॅकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा। डायल 112 की गाड़ियां इलाके में गश्त करेंगी। लाउडस्पीकर लगाकर लोगों को जागरूक किया जाएगा। सील इलाकों में मीडिया के लिए भी पाबंदी होगी।

अपर मुख्य सचिव गृह एक स्पष्ट करते हुए कहा, केवल उन्हीं इलाकों को सील किया गया है, जो संक्रमण के लिए हाॅट स्पाॅट घोषित किए गए हैं, बाकी जनपद में लाॅकडाउन ही रहेगा। हालांकि इन 15 जनपदों में लाॅकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा। अपर मुख्य सचिव ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रदेश के जिन जनपदों और शहरों में 6 या 6 अधिक कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं, उन इलाकों को हाॅटस्पाॅट की श्रेणी में रखते हुए उन्हें पूरी तरह से सील किया जाए। बताया कि प्रदेश में अब तक करीब 50 क्षेत्रों को हाॅट स्पाॅट घोषित किया गया है। अवनीश अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में अब तक 345 कोरोना मरीज मिले हैं। जिसमें तबलीगी जमात के 187 हैं। अभी तक 26 मरीज ठीक होकर घर भेजे जा चुके हैं।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com