खेल

धोनी को नजरअंदाज करना ठीक नहीं : कैफ

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ का मानना है कि केएल राहुल विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर लॉन्ग टर्म आॅप्शन नहीं हैं और ऐसे में महेंद्र सिंह धोनी को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

कैफ का मानना है कि अभी तक टीम इंडिया को धोनी का रिप्लेसमेंट नहीं मिला है। धोनी ने 2019 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल के बाद से कोई मैच नहीं खेला है। ऋषभ पंत को लिमिटेड ओवर में धोनी के रिप्लेसमेंट के तौर पर इस्तेमाल किया गया, लेकिन वो कुछ ज्यादा प्रभावित नहीं कर सके।

आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान पंत चोटिल हुए थे, उसके बाद से केएल राहुल विकेटकीपर बल्लेबाज की जिम्मेदारी लिमिटेड ओवर में संभाल रहे हैं। कैफ ने कहा, ‘अभी तक उनका कोई विकल्प नहीं रहा है। कई खिलाड़ियों को धोनी की जगह इस्तेमाल किया गया है, मुझे नहीं लगता कि केएल राहुल लॉन्ग टर्म आॅप्शन हैं।

उन्हें बैक-अप विकेटकीपर के तौर पर रखा जाना चाहिए, अगर विकेटकीपर चोटिल हो जाता है, तो उन्हें विकेटकीपर का रोल निभाना चाहिए। आपको किसी विकेटकीपर पर काम करना होगा। ऋषभ पंत और संजू सैमसन भी धोनी की जगह नहीं ले पाए। जब आप सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ की बात करते हैं, तो आपके पास विराट कोहली, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा जैसे रिप्लेसमेंट थे।’

कैफ ने आगे कहा, ‘इन सब ने मिलकर उस खाली जगह को भरा, लेकिन यह केस धोनी के साथ नहीं रहा। मुझे अभी भी लगता है कि धोनी नंबर-1 विकेटकीपर हैं। वो अभी पूरी तरह से फिट हैं और जल्दबाजी में उन्हें साइडलाइन नहीं किया जाना चाहिए।’

धोनी के संन्यास को लेकर तमाम चचार्एं चलती रही हैं। हालांकि धोनी ने खुद अभी तक संन्यास को लेकर कुछ नहीं कहा है। वहीं कई दिग्गज क्रिकेटरों का मानना है कि धोनी अब टीम इंडिया में वापसी नहीं कर सकेंगे।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button