Main Sliderउत्तर प्रदेशजौनपुर

लापरवाही की भेंट चढ़ी श्रमिक ट्रेन: यात्रियों ने किया हंगामा, ट्रेन छोड़ कर भागे ड्राइवर

जौनपुर. कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के बीच दूर दराज राज्यों में फंसे श्रमिकों का पलायन जारी है। वहीं श्रमिकों की सहूलियत के लिए सरकारों ने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू किया। लेकिन इन ट्रेनों में कई खामियां भी सामने आ रही हैं। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश में मजदूरों का हंगामा भी देखें को मिला। श्रमिकों का आरोप है कि उन्हें जौनपुर जाना था लेकिन वाराणसी पहुँचा दिए गए। स्टेशन पर जमकर हंगामा हुआ और श्रमिकों ने दूसरे ट्रैक से आ रही ट्रेनों को भी रोकने का प्रयास किया।

दरअसल, शुक्रवार को वाराणसी और डीडीयू जंक्शन (मुगलसराय) के बीच कुछ घंटों तक स्पेशल श्रमिक ट्रेन को रोक दिया गया। जिससे परेशान होकर ट्रेन में सफर कर रहे सैकड़ों श्रमिक रेलवे ट्रैक पर उतर आए और हंगामा करने लगे।

जानकारी के मुताबिक, महाराष्ट्र के पनवेल से यूपी के श्रमिकों को लेकर रवाना हुई ट्रेन को जौनपुर जाना था लेकिन बीच रास्ते में ट्रेन को जौनपुर के बदले दीनदयाल जंक्शन की तरफ मोड़ दिया गया। ऐसे में ट्रेन वाराणसी होते हुए काशी स्टेशन पर पहुंची।

ऐसी बात से यात्रियों में नाराजगी दिखी। मजदूर स्टेशन पर उतर आये और दूसरे ट्रैक पर आती हुई ट्रेन को भी रोकने का प्रयास किया। यात्रियों का आरोप है कि पहले तो ट्रेन काशी स्टेशन पर करीब 6 घंटे से ज्यादा देर तक खड़ी रही। वहीं जब दोबारा चली तो दीनदयाल जंक्शन पहुँचने से पहले ही एक छोटे से स्टेशन व्यास नगर पर रोक गयी और डेढ़ से दो घंटे तक खड़ी रही।

जानकारी के बाद मौके पर आरपीएफ और जीआरपी की टीम भी पहुंची और श्रमिकों को समझाया। मामला शांत करवा कर मजदूरों को वापस रवाना किया गया।

loading...
Loading...

Related Articles