पटनाबिहार

पटना के भू-माफिया दीपक दुबे और सुनील सिंह कर रहा था सरकारी जमीन कब्जा ,एफआईआर

 बिहार राज्य आवास बोर्ड के अधिग्रहण 1024 एकड़ जमीन के कुछ भू-खंड किया है बिक्री
>> सरकारी जमीन पर ट्यूबवेल और अवैध निर्माण कर किया चाहरदिवारी
पटना ( अ सं ) । राजीवनगर-दीघा में बिहार राज्य आवास बोर्ड के  अधिग्रहण 1024 एकड़ का फर्जीवाड़ा कर जमीन कब्जा कर और अवैध निर्माण करने का आरोप पुनः एक बार भू-माफिया दीपक दुबे और सुनील सिंह पर लगा हैं । बिहार राज्य आवास बोर्ड के कार्यपालक अभियंता और स्थानीय पुलिस पर निगरानी कर रही थी पुलिस गाड़ी देखते ही अवैध निर्माण में जुटे मजदूर भाग खड़ा हुये । ज़मीन पर पाया गया की ट्यूबवेल लगाया गया है और चारदीवारी की काम कराया जा रहा है । सरकारी ज़मीन पर अवैध निर्माण कराने को लेकर बिहार राज्य आवास बोर्ड के कार्यपालक अभियंता प्रकाश चंद्र राजू ने दोनों के ख़िलाफ़ एफ़आइआर दर्ज कराया है । थानाध्यक्ष निशांत कुमार ने बताया की सरकारी ज़मीन पर अवैध क़ब्ज़ा करने के मामले में जांच की जा रही है । सरकारी ज़मीन पर निर्माण कराने को लेकर रोक लगी है । पुलिस दल लगातार गस्ती कर कार्रवाई कर रही है । सुत्रों की मानें तो भू – माफिया दीपक दुबे कई लोगों से बिहार राज्य आवास बोर्ड का ज़मीन  दे दिया है और लाखों रूपये ले लिया है ।मालूम हो की बिहार राज्य आवास बोर्ड ने  सन् 1972-74 में 1024 एकड़ ज़मीन अधिग्रहण किया था । सरकारी ज़मीन का चारदीवारी नहीं होने के कारण कई भू – माफिया सक्रिय हो गये । सन् 1980 से  आजतक कई लोगों ने फर्जीवाडा कर कॉपरेटिव के नाम पर उक्त अधिग्रहण ज़मीन को किसान के परिजनों से लिखवा लिया  और फिर वही अधिग्रहण भूमि को लाखों का क़ीमत लेकर बिक्री कर दिया है । बिहार राज्य आवास बोर्ड के अध्यक्ष, सचिव , कार्यपालक अभियंता ने ज़िलाधिकारी पटना, एसएसपी पटना, एएसपी कोतवाली और राजीवनगर और दीघा थानाध्यक्ष को पत्र लिखकर स्पष्ट किया है की अधिग्रहण 1024  एकड़ पर किसी कॉपरेटिव या निजी व्यक्ति का नहीं है पूर्ण स्वामित्व बिहार राज्य आवास बोर्ड के अधिन है ।
loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com