हरदोई

गांव में होम क्वाइंटाइन व्यक्ति की निगरानी करने का दायित्व निगरानी समिति का होगा-जिलाधिकारी

निरीक्षण के दौरान मनरेगा, गौशाला,स्वच्छता,हैण्ड पम्प,राशन कार्ड एवं कायाकल्प के अन्तर्गत विद्यालयों मेें होने वाले कार्यो के प्रगति की समीक्षा करें- पुलकित खरे

हरदोई-कलेक्ट्रेट सभागार में आहूत समस्त खण्ड विकास अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे ने निर्देश दिये कि ग्राम स्तर पर कोविड-19 के प्रति लोगों को जागरूक करने हेतु ग्राम पंचायत स्तर पर गठित कोरोना निगरानी के नामित सदस्य ग्राम प्रधान आशा,सेके्रटरी,कोटेदार तथा अन्य सदस्यों के द्वारा समय-समय पर बैठकें की जाये और कोरोना निगरानी के सम्बन्ध में दिये गये निर्देशों का पालन कराया जाये और कोरोना निगरानी समिति के सदस्यों को गांव में आने वाले प्रवासी श्रमिकों के होम क्वाइंटाइन किये की जानकारी रखने के साथ क्वाइंटाइन व्यक्ति की निगरानी करने का दायित्व होगा। जिलाधिकारी ने कहा कि गांव में होम क्वाइंटाइन किये प्रवासी व्यक्ति के घर के बाहर पोस्टर लगाया जायेगा जिस पर संबंधित व्यक्ति की समस्त जानकारी के साथ कब तक क्वाइंटाइन रहेगा की भी तिथि अंकित होगी तथा ग्राम कोरोना निगरानी समितियों द्वारा प्रत्येक दिन प्रातः कोरोना जागरूकता प्रभात फेरी निकाली जायेगी और निगरानी समिति के सदस्यों द्वारा की गयी कोरोना निगरानी समिति की बैठक, पोस्टर, गांव में आये प्रवासियों की संख्या वाॅटसप के माध्यम से प्रत्येक दिन मुख्य विकास अधिकारी को उपलब्ध करायें। उन्होने कहा निगरानी समितियां गांव के लोगों सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने के साथ मास्क एवं गमछे से मुंह ढकने के लिए प्रेरित करें।
जिलाधिकारी ने कहा कि सभी खण्ड विकास अधिकारी ग्राम पंचायत स्तर पर भ्रमणशील रहकर सबसे पहले अपने क्षेत्र में आने वाले क्वाइंटाइन सेंटर का प्रतिदिन निरीक्षण करें तथा निरीक्षण के दौरान चिकित्सकों, कानूनगो, लेखपाल एवं सफाई कर्मचारियों की पालीवार उपस्थित की जानकारी प्राप्त करें तथा क्वाइंटाइन सेंटरों पर नियमित सेनेटाइरेशन कराने के साथ ही परिसर, कमरों एवं शौचालय की सफाई व्यवस्था बेहतर हो और खाने की गुणवत्ता अच्छी हों एवं वहां उपस्थित लोगों से सोशल डिस्टेसिंग का पालन करायें तथा क्वाइंटाइन सेंटर के नोडल अधिकारी से आने वाले प्रवासी श्रमिकों की संख्या, भोजन एवं राशन किट वितरण के सम्बन्ध जानकारी प्राप्त करें। उन्होने कहा कि जल संचयन कार्यक्रम के तहत मनरेगा में अच्छा कार्य हुआ है फिर भी कोरोना महामारी को देखते हुए अपने गांव आ रहे प्रवासी श्रमिकों के भी जाबकार्ड बनवाकर मनरेगा में काम उपलब्ध करायें ताकि गरीब मजदूर भी अपने परिवार का भरण पोषण कर सकें। जिलाधिकारी ने कहा कि गांव में निरीक्षण के दौरान गौशाला, स्वच्छता, हैण्ड पम्प, राशन कार्ड एवं कायाकल्प के अन्तर्गत बेसिक एवं माध्यमिक विद्यालयों मेें होने वाले आदि कार्यो की प्रगति की समीक्षा सम्बन्धित ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सेवक आदि से करेें।उन्होने कहा कि खण्ड विकास अधिकारी गांव भ्रमण से पूर्व संबंधित कार्यो की समीक्षा आदि की जानकारी संबंधित ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सेवक आदि को एक दिन पहले दें तथा भ्रमण चार्ट रजिस्टर बनाये जिसमें किस गांव का निरीक्षण किया जायेगा और किन-किन कार्यो की समीक्षा की जायेगी उसको अंकित किया जायेगा। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी निधि गुप्ता वत्स ने भी खण्ड विकास अधिकारियों को गांवों में मनरेगा, गौशाला, शौचालय, आवास एवं कायाकल्प योजना आदि कार्यो में प्रगति लाने के निर्देश दिये। बैठक में प्रशिक्षु आईएएस लक्ष्मी एन, अपर जिला सूचना अधिकारी दिव्या निगम व सभी खण्ड विकास अधिकारी आदि रहे।

loading...
Loading...

Related Articles