बिहार

मुंगेर में प्रवासियों को जिले में ही रोजगार देने की तैयारी

Preparations to provide employment to migrants in Munger in the district itself

मुंगेर। अन्य राज्यों से आये प्रवासी मजदूरों के स्किल मैपिंग के उपरांत रोजगार मुहैया कराये जाने के संबंध में मुंगेर संग्रहालय सभागार में एक बैठक आयोजित की गयी। अध्यक्षता जिलाधिकारी राजेश मीणा ने की।

डीएम ने कहा कि बाहर से आये प्रवासी मजदूरों को अब यहीं पर रोजगार मुहैया कराया जायेगा। ताकि उनका पलायन ना हो सके। इस दिशा में सभी विभाग अपने-अपने निर्माण कार्य में उन्हें रोजगार के अवसर प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि स्थानीय एवं प्रवासी मजदूरों से ही विभागीय विकास कार्य कराया जाय। इसके लिए उद्योग विभाग के श्रम साधन पोर्टल पर कार्य-निर्माण विभागों यथा पीएचईडी, आरसीडी, आरडब्लूडी आदि ने अपने कार्य हेतु मानव रिक्ति की आवश्यकता को अपलोड किया है।

उद्योग विभाग के अधिकारी ने बताया कि अबतक 6646 लोगों की आवश्यकता को इंट्री किया गया है। नौवागढ़ी में रेडिमेड गारर्मेन्ट एवं पूरबसराय क्षेत्र में बढ़ईिगरी सूक्ष्म एवं लघु उद्योग को सेटअप करने की योजना है। मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अत्यंत पिछड़ा वर्ग योजना में 12वीं पास लाभुक को लोन प्रदान किया जायेगा। साथ ही प्रधानमंत्री पीएमजीएसवाई के अन्तर्गत भी 10 लाख तक की ऋण मुहैया करायी जायेगी। प्रवासी में पलम्बर, टेलरिंग, राज मिस्त्री, तथा अकुशल मजदूर भी शामिल हैं। नियोजन, पीएचईडी, ग्रामीण कार्य विभाग, पथ प्रमंडल, नगर निगम, खनिज विकास, जीविका, श्रम विभाग के पदाधिकारी ने आगंतुक प्रवासियों के कार्य कुशलता के आधार पर उन्हें रोजगार उपलब्ध करायेगी।

loading...
Loading...

Related Articles