कानपुर

दो और मरीज मिले कोरोना संक्रमित, आंकडा 339 पर पहुंचा 

प्रवासी कामगारों के आने से समस्या गहराई, एक्टिव केस 27  

कानपुर। जिले में कोरोना के संक्रमण ने जिस तरह से हमला बोला और उसके बाद यहां के मरीजों ने इस खतरनाक वायरस को मात दी, इस बात को तो सभी जानते हैं। चिकित्सकों की अथक मेहनत के बाद शहरी इलाकों में कोरोना के अब कम मामले देखे जा रहे हैं। लेकिन पिछले दिनों से कानपुर से सटे कस्बाई और ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना के मरीज आने शुरू हुए हैं। प्रवासी कामगारों के आने से यह समस्या गहराई है। इस बीच कानपुर के शिवराजपुर और बिल्हौर में दो अन्य मरीज कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं।
दरअसल,पिछले कई दिनों से कानपुर में कोरोना संक्रमण के मामले कम और कोरोना को मात देने वाले मरीजों के मामले ज्यादा सामने आए हैं। बीच में कई दिन ऐसे भी रहे, जिसमें कोई कोरोना का मरीज नहीं आया, लेकिन प्रवासी कामगारों के आने के बाद फिर से कोरोना संक्रमण में इजाफा देखा गया। पिछले दिनों में कोरोना संक्रमण के जो मामले आए, उसमें अधिकतर मामले प्रवासी कामगारों से जुड़े हुए रहे। भीतरगांव, कल्यााणपुर, डिप्टी पड़ाव में जो लोग कोरोना पॉजीटिव आए, उसमें भी अधिकतर प्रवासी रहे। यही वजह है कि अब गांवों और कस्बाई क्षेत्रों को लेकर ज्यादा सतर्कता बरती जा रही है।
सीएमओ ने कहा स्थिति हो जाएगी कंट्रोल
इसको लेकर सीएमओ डॉ. एके शुक्ल ने कहा कि अभी उस प्रकार से केस सामने नहीं आए हैं, जिससे यह कहा जा सके कि कोरोना ग्रामीण क्षेत्रों की तरफ बढ़ रहा है। शहर से सटे ग्रामीण क्षेत्रों में जो भी केस आए हैं, वह अधिकतर माइग्रेंट वर्कर से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि यह बात सही है कि ग्रामीण क्षेत्रों में सबसे ज्यादा माइग्रेंट वर्कर गए हैं,ऐसे में सभी को पर्याप्त सुरक्षा बरतने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि जो भी मामले आए हैं, वह सब कंट्रोल हो जाएगा।
गुरूवार को मिले दो नए मामले
गुरूवार को कानपुर में कोरोना के दो नए मामले मिले,इसमें शिवराजपुर और बिल्हौर से एक-एक शख्स शामिल है। इससे पहले देर रात शिवराजपुर का एक किशोर की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आयी थी। इसी के साथ कानपुर में अब कोरोना के कुल मामले बढ़कर 339 पहुंच गये है. वहीं, कुल एक्टिव केस की बात करें तो यह संख्या 27 पर पहुंच गई है।
loading...
Loading...

Related Articles