राष्ट्रीय

कोरोना : दिल्ली ने चीन को पीछे छोड़ा, लेकिन नए मामलों ने बढ़ाई चिंता

नई दिल्ली। आर्थिक राजधानी मुंबई के बाद अब दिल्ली में भी संक्रमण के मामले चीन से ज्यादा हो गए हैं। राज्य सरकार की और से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक, सोमवार को 2084 नए मामले दर्ज किए गए, इसके साथ ही संक्रमितों की कुल संख्या 85161 तक पहुंच गई। चीन में अब तक 83,512 मामले ही सामने आए हैं। हालांकि, राहत की बात है कि मरने वालों की संख्या चीन के मुकाबले काफी कम है और ठीक होने वालों की दर लगातार बढ़ी जा रही है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक, सोमवार तक चीन में कोरोना वायरस से 4600 लोगों की मौत हुई थी जबकि दिल्ली में सिर्फ 2680 लोगों ने जान गंवानी पड़ी। हालांकि, चीन में अब एक भी मौत नहीं हो रही है वहीं, दिल्ली में मरने वालों की आंकड़ा लगातार बढ़ाता जा रहा है। सोमवार को भी 57 लोगों को जान गंवानी पड़ी, यह चिंता का विषय है।

56 हजार से ज्यादा मरीज हुए ठीक
दिल्ली में अब तक 56,235 संक्रमित कोरोना को शिकस्त दे चुके हैं। सोमवार को राजधानी में 3628 लोग कोरोना के ठीक हुए। वहीं दिल्ली में फिलहाल कोरोना के 26,246 सक्रिय मामले हैं, जिनका इलाज चल रहा है।

नए मामलों ने बढ़ाई चिंता
आंकड़ों के देखें तो दिल्ली में बीते 10 दिनों से औसतन रोजाना तीन हजार मामले सामने आ रहे थे लेकिन राहत की बात है कि दो दिन से इसमें कामी दर्ज की जा रही है। लेकिन बढ़ते मामले चिंता जरूर बढ़ा रहे हैं।

तमिलनाडु भी आगे निकला
दिल्ली के बाद तमिलनाडु में भी मामले चीन से ज्यादा हो गए हैं। आंकड़ों को देखें तो तमिलनाडु में सोमवार तक 86224 मामले हो गए। हालांकि, यहां मौतें चीन, मुंबई और दिल्ली के मुकाबले काफी कम हैं। यहां अब तक कोरोना की वजह से सिर्फ 1141 लोगों तो ही जान गंवानी पड़ी है। यहां 55.34 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

loading...
Loading...

Related Articles