हमीरपुर

बिना बच्चो के चली कक्षाएं ,खुले स्कूल

हमीरपुर । जुलाई के प्रथम दिवस से ही बेसिक शिक्षा के समस्त प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय खोलकर आन लाइन क्लासेज के निर्देश पर केवल शिक्षक विद्यालय में उपस्थित हुए। बच्चों को विद्यालय आने से मुक्त रखा गया है, कोई भी बच्चा विद्यालय में उपस्थित नहीं हुआ तथा विद्यालय से कक्षाएं ऑनलाइन संचालित की गई ।पूर्व माध्यमिक विद्यालय टिकरौली विकासखंड सुमेरपुर के शिक्षक अकबर अली ने अपने विद्यालय के कक्षा से ऑनलाइन क्लास के समस्त बच्चों को जोड़ते हुए विज्ञान विषय के अंतर्गत जंतुओं में पोषण की सचित्र एवं लिखित जानकारी दी। उनके कार्य का ऑनलाइन पर्वेक्षण सतीश कुमार जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, ए आर पी राम कुमार द्वारा किया गया। उन्होंने बच्चों से कहा कि करोना काल में अपने घर में रहते हुए कक्षा शिक्षण का आनंद लें और अपना कार्य एवं अपने शिक्षक के निर्देश का पालन करते हुए विषय का कार्य पूरा करें । ऑनलाइन क्लास लेने वाले शिक्षक अकबर अली ने बताया कि मिशन प्रेरणा के अंतर्गत उत्तर प्रदेश को प्रेरक प्रवेश बनाने हेतु हमारे प्रदेश के मुखिया विभाग के महानिदेशक विजय किरण आनंद द्वारा एवं शिक्षा निदेशक बेसिक सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह ने निर्देश दिए थे कि सभी शिक्षक विद्यालय में उपस्थित रहते हुए ऑनलाइन शिक्षण एवं अन्य कार्य विद्यालय का संपन्न कराएंगे ।टिकरौली की कक्षा में शिक्षण श्यामपट्ट के माध्यम से बच्चों को कराया गया ,इससे बच्चों को अपने घर पर रहते हुए यह एहसास हुआ कि वह कक्षा में बैठकर अध्ययन कर रहे हैं और हमें भी कक्षा से बच्चों को सीधे जोड़ने का एक सुखद एहसास एवं शिक्षा का नवीन तकनीकी और आईसीटी प्रयोग करने का मौका मिला । प्रेरक प्रदेश के साथ ही प्रेरक छात्र बनाने में भी योगदान प्रदान कर रहे है। हमारा एक ही उद्देश्य है कि सबसे बेहतर और सरकारी शिक्षा सबके लिए सरकारी शिक्षा हमारी शिक्षा पद्धति बच्चों को भी बहुत रास आ रही है ।इस कार्य में बच्चों के साथ उनके अभिभावकों का बहुत ही अच्छा सहयोग मिल रहा है। बच्चे अपना कार्य कापी में कर के प्रति दिन व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से शिक्षक के पास भी भेज रहे हैं ।जिससे कि शिक्षक उसे जांच कर उनकी सुधार के साथ उसी दिन उपलब्ध कराते हैं।

loading...
Loading...

Related Articles