Main Sliderबिहारराष्ट्रीय

बिहार में ​कुदरत का कहर, फिर आकाशीय बिजली गिरने से 22 लोगों की मौत

पटना। अभी पिछले बार टनका से मरने वालों के परिवार का आंसू भी नही सूखा था कि बिहार में एक बार फिर कुदरत ने अपना कहर बरपाया  है। राज्य में आकाशीय बिजली (ठनका) गिरने से 22 लोगों की मौत हो चुकी है। कुछ दिन पहले ही 100 से ज्यादा लोगों की मौत ठनका गिरने से हुई थी। गुरुवार शाम 5.15 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, आकाशीय बिजली गिरने से सबसे अधिक प्रभावति राजधानी पटना जिला हुआ है। यहां पर 6 लोगों की मौत हुई है।

बिहार राज्य आपातकालीन संचालन केंद्र, पटना ने फोन पर प्राप्त हुई जानकारी के हिसाब से एक लिस्ट जारी की है। इसमें आठ जिलों में 22 लोगों की मौत की बात कही गई है। आपदा प्रबंधन विभाग की लिस्ट के मुताबिक, सबसे अधिक 6 लोग पटना में, इसके बाद पूर्वी चंपारण में चार लोग, समस्तीपुर में तीन, शिवहर में दो, कटिहार में तीन, मधेपुरा में दो और पूर्णिया व पश्चिमी चंपारण में एक-एक व्यक्ति की मौत आकाशीय बिजली की चपेट में आने से हुई है।

loading...
Loading...

Related Articles