पटनाबिहार

दो आईपीएस व एक डीएसपी के कड़ी मेहनत से पकड़ में आएं 5 बैंक लूटेरे , नगद 33 लाख 13 हजार बरामद

 लूट कांड में इस्तेमाल प्रयुक्त हथियार -कारतूस किया बरामद ,लूट कांड में शामिल अपराधियों पर दर्ज है 10 केस

>> सेंट्रल रेंज आईजी संजय सिंह ने एसएसपी उपेन्द्र शर्मा के नेतृत्व किया था गठित , 10 दिन में सफल उद्दभेदन

रवीश कुमार मणि
पटना ( अ सं ) । राजधानी में दस दिन पूर्व पीएनबी में दिनदहाड़े हथियार बंद अपराधियों ने कर्मचारियों व ग्राहकों को बंधक बनाकर 52 लाख रूपये की लूट को अंजाम दिया था। इसके बाद सुरक्षा -व्यवस्था को लेकर एक बड़ा सवाल खड़ा हुआ था। रेंज आईजी संजय सिंह ने एसआईटी गठित किया था। पटना के एसएसपी उपेन्द्र शर्मा ,सिटी एसपी (पश्चिमी ) अशोक मिश्रा व डीएसपी संजय पांडे व टीम में शामिल 4 -4 इंस्पेक्टर व एसआई 11 सिपाही व 2 चालक के कड़ी मेहनत से बैंक लूटकांड का सफल उद्दभेदन तो किया ही घटना में शामिल 5 मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया एवं बैंक लूट का नगद 33 .13 लाख रूपये बरामद किया हैं । घटना में प्रयुक्त हथियार ,देशी पिस्टल -5 ,कारतूस 16 ,मोटरसाइकिल -3 ,सोने का लॉकेट-1 ,सोने का मढ़ा रूद्राक्ष माला-1 ,सोने का चैन-1 ,लूट रकम से खरीद मादक द्रव -1लाख रूपये का अन्य आपत्तिजनक सामान बरामद किया हैं ।

अमन पर रखी गयी निगरानी और पकड़ में आ गये सभी

एसआईटी टीम को यह सूचना हाथ लग गयी की बैंक लूट कांड को स्थानीय अपराधियों ने अंजाम दिया हैं ,चुकी सीसीटीवी में पटना से बाहर जाने वाले रास्ते में कुछ नहीं दिखा। पूछताछ में सुराग मिला की बैंक कालोनी ,जक्कनपुर का रहने वाला अमन कुमार  उर्फ सत्यम शुक्ला उर्फ अमित की भूमिका संदिग्ध हैं । एसआईटी पुरी तरह से अमन पर निगरानी रखने लगी । 144 घंटे के कड़ी मशक्कत के बाद यह पता चल गया की अमन से इसके साथी मिलने आ रहें हैं । अमन कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ की गयी तो  सबकुछ खोल दिया । इसके बाद अमन कुमार के निशानदेही पर एसआईटी ने छापेमारी कर प्रफुल कुमार ,गणेश कुमार उर्फ नन्हकी, सोनेलाल व हरिनारायण को धर दबोचा ।

9 लूटकांड का हुआ खुलासा , कई थाने में दर्ज हैं एफआईआर

पीएनबी लूट कांड का सफल उद्दभेदन तो हुआ ही, इसके साथ ही बहुचर्चित जानकी निवास स्थित गैस एजेंसी के मालिक के यहां डकैती कांड ,फर्स्ट क्राई खिलौना दुकान लूट कांड ,बेऊर थाना कांड संख्या -154 /20 ,कंकरबाग थाना कांड संख्या -167 /20 ,श्री कृष्णापुरी थाना कांड संख्या -375 /15 ,बुद्धा कालोनी थाना कांड संख्या – 390 /17 ,पाटलीपुत्रा थाना कांड संख्या -53 /18 ,फतुहा थाना कांड संख्या -47 /10 ,गर्दनीबाग थाना कांड संख्या -229 /15 ,जक्कनपुर थाना कांड संख्या -316 /20 एवं कृष्णापुरी थाना कांड संख्या -164 /20 का खुलासा हुआ ।

अपराध छिपाने के लिए करते थे साधारण काम

पीएनबी बैंक लूट में शामिल अपराधी दिमाग से पुरी तरह शातीर हैं । अपने अपराध को छुपाने के लिए ऐ शातीर अपराधी साधारण काम करते थे ताकि किसी को सक नहीं हो । आसपास और जांच में यह जानकारी पुलिस को मिली की गिरफ्तार हरिनारायण कराटे का ब्लैक बेल्ट टीचर है । इसी तरह अमन शुक्ला शिक्षक है वही प्रफुल कुमार कंपाउंडर है और सोनेलाल सेन्ट्रिंग मिस्त्री हैं ।इनके पास लूट की मोटी रकम होने के बाद भी अपने को साधारण और मजबूर दिखने के लिए लोगों से कर्ज लेने का नाटक करते है।

एसआईटी में शामिल पुलिसकर्मी

रेंज आईजी संजय सिंह द्वारा गठित एसआईटी में पटना के एसएसपी उपेन्द्र शर्मा ,सिटी एसपी -अशोक मिश्रा ,डीएसपी संजय पांडे ,इंस्पेक्टर अमलेश कुमार ,विनय प्रकाश ,फुलदेव चौधरी ,मुकेश कुमार वर्मा ,एसआई – मनोज कुमार राय, मो चांद प्रवेज, मो गुलाम मुस्तफा, सिपाही आलोक कुमार ,धीरज कुमार ,चंदन कुमार ,राजाबाबू, मनीष मालाकार, मुकेश कुमार ,चंदन कुमार ,इन्दुभूषण पासवान ,सुमन कुमार ,सुंदरलाल चौधरी ,नवीन कुमार एवं चालक -अखिलेश कुमार ,धर्मेन्द्र कुमार पासवान शामिल थे।
loading...
Loading...

Related Articles