संतकबीर नगर

संत कबीर नगर, मारपीट में घायल युवक की हुई मौत हत्या का आरोप

संत कबीर नगर

– *महुली थाना क्षेत्र के नगर पंचायत हरिहरपुर के पटेल नगर मे हुई घटना*
– *पुलिस ने सभी आरोपियों को हिरासत मे लिया, पीएम के लिए भेजा श

महुली थाना क्षेत्र के नगर पंचायत हरिहरपुर के पटेल नगर मे बीते मंगलवार को मोबाईल पर हुई कहासुनी के बाद दो पक्षों मे मार पीट हो गई थी। आरोप है कि दबंगों की पिटाई से घायल हुए युवक की शनिवार की भोर मे मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे मे लेकर पीएम के लिए भेज दिया है। मृतक के पिता ने आरोपी पति पत्नी और उसके तीन बेटों के खिलाफ हत्या की तहरीर दिया है। पुलिस ने सभी आरोपियों को अपनी हिरासत मे ले लिया है।
नगर पंचायत हरिहरपुर के पटेल नगर निवासी रामपत पुत्र सिधारे ने पुलिस को दिये तहरीर मे आरोप लगाया कि 30 जून को वह अपने खेत पर था। घर पर उसकी पत्नी सोना देवी और 25 बर्षीय पुत्र प्रदीप थे। उसी समय पड़ोस के ही अजय पुत्र संतोष ने प्रदीप के मोबाइल पर फोन करके उससे गाली गलौझ करने लगा। बेटे प्रदीप द्वारा विरोध करने पर अजय अपने पिता संतोष, भाईयों अभय, अमन और मां कलावती देवी के साथ मिलकर पीडित के घर मे घुस गये। आरोप है कि उक्त लोगों ने घर मे मौजूद मां बेटे की जमकर पिटाई कर दिया। लोगों ने बीच बचाव करके किसी तरह दोनो को बचाया था। परिजनों का कहना है कि प्रदीप का स्थानीय चिकित्सकों से इलाज चल रहा था। शनिवार की भोर मे अचानक प्रदीप की मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे मे लेकर पीएम के लिए भेज दिया है। वहीं मृतक के परिजनों की तहरीर मिलते ही पुलिस ने सभी आरोपियों को हिरासत मे लेकर पूछताछ शुरू कर दिया है। इन्स्पेक्टर प्रदीप कुमार सिंह ने बताया कि मार पीट की हुई घटना मे दोनो पक्षों के खिलाफ शान्ति भंग की कार्रवाई की गई थी। कुछ लोग मौत का कारण गंभीर बीमारी भी बता रहे हैं। पीएम के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। फिलहाल मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।
इन्सर्ट
कानपुर की घटना का दिखा असर
नगर पंचायत हरिहरपुर के पटेल नगर मे मार पीट की घटना मे घायल युवक के मौत की सूचना पर स्थानीय पुलिस प्रशासन हरकत मे आ गया। घटना स्थल पर हरिहरपुर पुलिस चौकी से लगायत महुली थाने की पूरी फोर्स मौके पर पहुंच गई। समूचा पटेल नगर छावनी मे तब्दील हो गया। इन्स्पेक्टर प्रदीप कुमार सिंह के आलावा लगभग दर्जन भर सब इन्स्पेक्टर और दो दर्जन से अधिक महिला और पुरुष कांस्टेबल मौके पर पहुंच गये। भारी मात्रा मे पहुंची पुलिस को देख मौजूद हर व्यक्ति कानपुर मे हुई पुलिस टीम पर हमले के चलते स्थानीय पुलिस की अतिरिक्त सतर्कता का नमूना मान रहा है।

loading...
Loading...

Related Articles