पटनाबिहार

डीजीपी ने ब्लाइंड केस का खुलासा करने पर पटना पुलिस को किया सम्मानित

 10 दिन के सघन जांच और तकनीकी अनुसंधान के बाद पीएनबी लूटकांड का 33 लाख 13 हज़ार किया बरामद

>> शिक्षक और मज़दूर बनकर रह रहे पटना में करते थे लूट , 9 मामले का खुलासा

>> रेंज आईजी संजय सिंह ने एसएसपी पटना के नेतृत्व में गठित किया था एसआईटी

पटना ( अ सं ) । राजधानी में दिनदहाड़े बैंक लूट कांड के बाद सुरक्षा- व्यवस्था को लेकर सवाल खड़ा किया गया था । रेंज आईजी संजय सिंह ने एसआईटी गठित किया । दस दिन के कड़ी मेहनत के बाद जांच और तकनीकी अनुसंधान के बाद  एसआईटी ने बैंक लूट की 33 लाख 13 हज़ार नगद बरामद किया और घटना में शामिल 5 अपराधियों को गिरफ़्तार कर सबकी बोलती बंद कर दिया ।
पटना पुलिस को ब्लाइंड केस में मिली कामयाबी के बाद शनिवार को बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे सीधे पटना एसएसपी कार्यालय पहुँचे और एसआईटी टीम में शामिल एसएसपी उपेन्द्र शर्मा ,सिटी एसपी -अशोक मिश्रा ,डीएसपी संजय पांडे ,इंस्पेक्टर अमलेश कुमार ,विनय प्रकाश ,फुलदेव चौधरी ,मुकेश कुमार वर्मा ,एसआई – मनोज कुमार राय, मो चांद प्रवेज, मो गुलाम मुस्तफा, सिपाही आलोक कुमार ,धीरज कुमार ,चंदन कुमार ,राजाबाबू, मनीष मालाकार, मुकेश कुमार ,चंदन कुमार ,इन्दुभूषण पासवान ,सुमन कुमार ,सुंदरलाल चौधरी ,नवीन कुमार एवं चालक -अखिलेश कुमार ,धर्मेन्द्र कुमार पासवान को प्रशंसित- पत्र देकर सम्मानित किये और पुलिसकर्मियों को हौसलाअफ़जाई किया । 
आपको बता दें कि बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे के साथ एसएसपी कार्यालय में बिहार के जोनल आईजी संजय सिंह पटना एसएसपी उपेंद्र शर्मा पटना ईस्ट एसपी जितेंद्र कुमार पटना वेस्ट एसपी अशोक मिश्रा पटना ट्रैफिक एसपी सह प्रभारी एसपी सेंट्रल डी अमरकेश ,पटना ग्रामीण एसपी क्रांतेश मिश्रा शामिल थे।
loading...
Loading...

Related Articles