बिहार

संस्कार भारती पटना ने किया पांच कला गुरूओं का सम्मान

Sanskar Bharti Patna honors five art gurus

पटना। भारतवर्ष में अनंत काल से ही जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में गुरू का अत्यंत महत्व रहा है। गुरु पूजन की अखंड अनवरत परम्परा रही है। हमारी संस्कृति में नटराज विज्ञान कला सत्य सृजन तथा परम शक्ति के घोतक हैं। बता दें कि संस्कार भारती हर वर्ष गुरू पूर्णिमा के दिन नटराज पूजन का आयोजन करती है। इस वर्ष भी संस्कार भारती पटना नगर इकाई के द्वारा नटराज पूजन व कला गुरू सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कोरोना महामारी के कारण इस वर्ष कार्यक्रम किसी सभा स्थल पर आयोजित नहीं किया गया, बल्कि कला गुरूओं के घर पर जाकर ही सम्मान समारोह किया गया। संस्था द्वारा कला क्षेत्र में विशेष योगदान देने वाले गुरूओं को सम्मानित किया गया।

सम्मानित किए गए गुरूओं के नाम इस प्रकार हैं :-   

श्रीमती नीलम चौधरी (नृत्य विधा)
डॉ. मेहता नगेन्द्र (साहित्य विधा)
श्री रविन्द्र बिहारी राजू (नाट्य विधा)
श्री शरद कुमार (चाक्षुष कला)
श्री शंकर शरण सिंह (संगीत विधा)

मौके पर प्रवीर कुमार सिन्हा (मंत्री), रुपेश रंजन सिन्हा (मंत्री संगठन), सुदीपा घोष मातृशक्ति संयोजीका,नितेश कुमार (नाट्य विधा प्रमुख), आदर्श वैभव (चित्रकला विधा प्रमुख), पल्लवी विश्वास उपाध्यक्ष सह साहित्य विधा प्रमुख, यामिनी जी उपाध्यक्ष सह नृत्य विधा प्रमुख, अपर्णा श्रीवास्तव उपाध्यक्ष, ममता सरगम संगीत विधा प्रमुख, अविनय जी, आशा ठाकुर, निमिषा भट्ट,अविनय जी, संतोष कुमार,दिपक श्रीवास्तव, सिमरन सिन्हा, आकाश सिन्हा आदि उपस्थित थे।  

loading...
Loading...

Related Articles