संतकबीर नगर

संत कबीर नगर, परिवार नियोजन की तैयारी सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी

 

*दो चरणों में आयोजित होगा राष्ट्रीय परिवार कल्याण कार्यक्रम, आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारीसमुदाय को संवेदनशील बनाने के साथ ही, परिवार नियोजन सेवा का होगा सुदृढ़ीकरण*

*संतकबीरनगर, 9 जुलाई 2020 ।*

इस वर्ष विश्व जनसंख्या दिवस ‘आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी’ थीम पर मनाया जाएगा। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देश पर कोविड-19 महामारी से निपटाने के लिए बहुस्तरीय रणनीति अपनाते हुए कई कदम उठाए है, उनमें से प्रजनन स्वास्थ्य सेवाएं एक है, जो अवांछित गर्भधारण, मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य मृत्यु दर को कम करने के लिए आवश्यक है।

एसीएमओ आरसीएच डॉ. मोहन झा ने बताया कि परिवार कल्याण कार्यक्रम के अंतर्गत आधुनिक गर्भ निरोधक साधनों व परिवार नियोजन सेवाओं की सूचना, परामर्श एवं सेवाऐं प्रदान करने के प्रावधान पर जोर दिया जाएगा। इस प्रकार विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर समुदाय को संवेदनशील बनाने तथा परिवार नियोजन सेवाओं के सुदृढ़ किया जाएगा। विश्व जनसंख्या दिवस 2020 के लिए गतिविधियां दो चरणें में संचालित की जाएगी। योग्य दंपती संपर्क पखवाड़ा 10 जुलाई 2020 तक मनाया जाएगा। द्वितीय चरण में जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा 11 से 24 जुलाई 2020 तक मनाया जाएगा।

*मोबेलाइजेशन पखवाड़े में होगा सर्वे व सम्‍पर्क*

मोबिलाइजेशन पखवाड़े के दौरान योग्य दंपतियों से संपर्क कर सीमित परिवार के बारे में जनजागृति पैदा की जाएगी तथा आशा एवं एएनएम द्वारा योग्य दंपती सर्वे रजिस्टर को अपडेट किया जाएगा। पखवाड़े के दौरान सीमित परिवार के लाभ, विवाह की सही आयु, विवाह के दो वर्ष बाद पहला बच्चा, दूसरे व पहले बच्चें में तीन साल का अंतर, प्रसवोत्तर परिवार कल्याण सेवाएं, अंतरा गर्भनिरोधक इंजेक्शन, पुरुषों में परिवार नियोजन की सहभागिता, गर्भपात पश्चात् परिवार कल्याण सेवाओं के बारे में सभी स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आशा सहयोगिनियों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से योग्य दंपत्तियों से संपर्क किया जाएगा।

*जनसंख्‍या पखवाड़े के बारे में होगा प्रचार प्रसार*

जनसंख्या पखवाड़े के दौरान 11 जुलाई 2020 विश्व जनसंख्या दिवस पर जिला स्तर, ब्लॉक स्तर के जनप्रतिनिधियों के सहयोग से फिजिकल डिस्‍टेंसिंग को ध्‍यान में रखते हुए प्रचार प्रसार होगा। इसमें  जनप्रतिनिधयों की भागीदारी सुनिश्वित की जाएगी। मेले में परिवार कल्याण के साधनों का प्रदर्शन कर लाभार्थियों को परिवार कल्याण साधनों एवं योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। लाभार्थियों को परिवार कल्याण साधनों की उपलब्धता पर परामर्श दिया जाएगा। आमजन में जागरुकता के लिए सार्वजनिक स्थलों एवं चिकित्सा संस्थानों पर परिवार कल्याण सेवाओं का प्रचार-प्रसार किया जाएगा। जिला अस्पताल, एफआरयू, सीएचसी व पीएचसी पर परिवार कल्याण सेवाओं के अंतर्गत नसबंदी शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

 

loading...
Loading...

Related Articles