रायबरेली

प्रवासी श्रमिकों के स्वरोजगार हेतु तीन दिवसीय प्रषिक्षण सम्पन्न

 

रायबरेली 09 जुलाई (तरुणमित्र)।दरियापुर, रायबरेली के सभागार में  स्वरोजगार हेतु तीन दिवसीय प्रषिक्षण सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर केन्द्र के वैज्ञानिकगण डा0 ए0के0 तिवारी, डा0आर0पी0एन0 सिंह, डा0 आर0के0 कनौजिया, डा0 एस0वी0 सिंह एवं डा0 दीपाली चैहान ने प्रवासी मजदूरों को धान, मूंगफली तथा तिल का बीजोत्पादन कर रोजगार करने हेतु प्रेरित किया। वैज्ञानिकों द्वारा जानकारी प्रदान की गयी कि अच्छी गुणवत्ता वाला बीज ही उत्पादन प्रभावित करने का सबसे प्रमुख कारण होता है। यदि स्थानीय स्तर पर अच्छी गुणवत्ता वाला बीज उपलब्ध हो जाय तो बीज की कीमत ज्यादा प्राप्त होने के साथ-साथ कृषकों को खेती में उत्पादन बढ़ाने और अतिरिक्त आय अर्जन करने में सहायक होगा। प्रषिक्षण में देष के विभिन्न महानगरों से अपने गृह जनपद में आये हुए श्रमिकों को खेती में ही रोजगार का अवसर उपलब्ध कराने हेतु भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली भारत सरकार के निर्देषानुसार केन्द्र पर 16 विषयों पर कुल 560 श्रमिकों हेतु रोजगार परक प्रषिक्षण किया जाना प्रस्तावित है। जो पूर्णतयः निषुल्क है।

इस हेतु जुलाई, अगस्त तथा सितम्बर, 2020 में प्रषिक्षण निम्नानुसार प्रस्तावित है।गरीब कल्याण रोजगार योजना के अन्र्तगत प्रस्तावित प्रषिक्षण कार्यक्रम माह दिनांक विषय लाभािर्थयों की संख्यादिवस जुलाई 2020 07.07.2020 से 09.07.2020 धान, तिल एवं मूंगफली का बीज उत्पादन तकनीक।35 3 14.07.2020 से 16.07.2020 उर्द, मूंग एवं अरहर का बीज उत्पादन तकनीक। 35 3 22.07.2020 से 24.07.2020 सब्जियों एवं फलदार पौधों की नर्सरी उत्पादन तकनीक। 35 328.07.2020 से 30.07.2020 बकरी एवं भेंड़ पालन तकनीक, रोग एवं व्याधियों से बचाव

35 3

अगस्त

2020

05.08.2020 से 07.

08.2020

मधुमक्खी पालन एवं शहद उत्पादन

तकनीक, प्रसंस्करण एवं विपणन।

35 3

12.08.2020 से 14.

08.2020

पशुपालन, दुग्ध उत्पादन, दुग्ध

प्रसंस्करण एवं विपणन।

35 3

18.08.2020 से 20.

08.2020

मछली उत्पादन, फिंगरलिंग उत्पादन

तकनीक, मछलियों में होने वाले रोग

एवं व्याधियों से बचाव।

35 3

25.08.2020 से 27.

08.2020

मषरूम उत्पादन तकनीक एवं प्रसंस्करण

तथा विपणन।

35गेंहू,मसूर, सरसों बीज उत्पादन तकनीक। 35 3

08.09.2020 से 10.

09.2020

शरदकालीन सब्जियों की खेती। 35 3

14.09.2020 से 16.

09.2020

कुसुम योजना के अन्तर्गत

कृषि पारिस्थिति तंत्र सुधार में सोलर पम्प

का योगदान।

35 3

28.09.2020 से 04.

10.2020

कुसुम योजना के अन्तर्गत

सोलर पम्प की कृषि मंें उपयोगिता।

35 3

उपरोक्त विषयानुसार इच्छुक श्रमिक इन प्रषिक्षणों में भाग लेने हेतु केन्द्र पर आकर समय से पूर्व पंजीकरण करा लें, जिससे प्रषिक्षण हेतु उनका नाम प्राथमिकता के आधार पर अंकन किया जा सके। इस अवसर पर केन्द्र के वैज्ञानिक डा0 के0के0 सिंह, डा0ए0के0 तिवारी, डा0 आर0पी0एन0 सिंह, डा0 ओ0पी0 वर्मा, डा0 एस0वी0सिंह, डा0 दीपाली चैहान तथा समस्त कर्मचारी श्री अनिल कुमार, आलोक कुमार, पंकज मिश्रा, राजाराम मौर्य आदि उपस्थित रहे।

loading...
Loading...

Related Articles