Monday, October 19, 2020 at 7:02 PM

डीएसपी के दिलेरी से हत्या की वारदात टली, हैंड ग्रेनेड और हथियारों के साथ पकड़ा गया कुख्यात

 दो सप्ताह के कड़ी मेहनत और तकनीकी जांच के बाद पटना पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

>> पटना जिले में लोजपा नेता की हत्या और दो हत्या सहित 7 बड़े मामले का है छोटे शर्मा आरोपी ,जहानाबाद- अरवल तक फैला है गिरोह

>> रणवीर सेना का पूर्व कमांडर अनिल शर्मा का भतीजा है छोटे शर्मा उर्फ विजेन्द्र शर्मा  , हथियारों के जखीरा के लिए पुलिस कर रही गिरफ्तार दोनों अपराधियों से पूछताछ

रवीश कुमार मणि
पटना ( अ सं ) । पालीगंज डीएसपी मनोज कुमार पांडे की दिलेरी से हत्या सहित कई बड़े वारदात की घटना टल गयी । डीएसपी पांडे के नेतृत्व में पुलिस टीम ने बड़ी होशयारी से आर्मी का जिंदा हैंड ग्रेनेड लिये कुख्यात छोटू शर्मा उर्फ बिजेन्द्र शर्मा और मंटू कुमार को गिरफ्तार कर लिया । पुलिस ने हैंड ग्रेनेड और दो देशी कट्टा और 5 जिंदा कारतूस बरामद किया हैं । 15 दिनों की कडी मेहनत और तकनीकी जांच के बाद पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली हैं । छोटू शर्मा उर्फ बिजेन्द्र शर्मा पर लोजपा नेता की हत्या और दो हत्या सहित कई बड़े संगीन मामले दर्ज है। जहानाबाद और अरवल जिले तक गिरोह फैला हुआ हैं । रणवीर सेना से जुड़े रहें पूर्व कमांडर अनिल शर्मा का भतीजा छोटू शर्मा से हथियारों के जखीरा के बारे में पुलिस पूछताछ कर रही हैं । ऐसी सम्भावना है की और पुलिस को कामयाबी मिलेगी ।

पलक झपकते ही डीएसपी ने लिया दबोच

कुख्यात छोटू शर्मा उर्फ बिजेन्द्र शर्मा के पीछे पटना पुलिस पिछले 15 दिनों से जुटी थी । सिटी एसपी अशोक मिश्रा व डीएसपी मनोज कुमार पांडे को ऐसा इंपुट मिला था की छोटू शर्मा अपने गिरोह के सहयोग से पालीगंज, खिड़ीमोड़ में बड़ी घटना को अंजाम देने वाला हैं । छोटू शर्मा गिरोह के हर गतिविधियों की तकनीकी जानकारी में पुलिस जुटी थी। शनिवार को सूचना मिली की छोटू शर्मा अपने एक और साथी के साथ तारणपुर के एक व्यक्ति की हत्या करने वाला हैं । डीएसपी को यह भी स्पष्ट जानकारी थी की छोटू शर्मा स्वचालित हथियार और बम रखता हैं । डीएसपी मनोज कुमार पांडे के नेतृत्व में पालीगंज और बिक्रम थानाध्यक्ष व अन्य पुलिसकर्मी ने मोटरसाइकिल सवाल छोटू शर्मा और इसके साथी मंटू कुमार को घेर लिया । छोटू शर्मा अपने पैकेट में हाथ ले जा रहा था की डीएसपी मनोज पांडे ने छोटू शर्मा के दोनों हाथों को दबोच लिया । पैकेट की तलाशी लिया तो आर्मी का जिंदा हैंड ग्रेनेड निकला वही दोनों के कमर में दो देशी कट्टा और 5 जिंदा कारतूस मिला ।

पीन निकलता हो जाता बड़ी घटना

डीएसपी मनोज पांडे का एसटीएफ में काम करना शनिवार को बड़ा ही उपयोगी रहा । डीएसपी मनोज पांडे को इनपुट में पुरी जानकारी थी की छोटू शर्मा के पास घातक हथियार हैं उसे पुरी तरह से नहीं कब्जे में लिया गया तो मुश्किल हो सकती हैं । इसलिए डीएसपी का पुरी निगाह और निशाना छोटू शर्मा के पैकेट पर था। छोटू शर्मा ने जैसे ही पैकेट में हाथ नीचे करने की कोशिश की दोनों हाथ को डीएसपी ने पकड़ लिया और एक भी मौका नहीं दिया ,वही उसके साथी को भी पालीगंज और बिक्रम थानाध्यक्ष ने दबोच लिया । आर्मी के जानकारों की मानें तो हैंड ग्रेनेड का पीन निकल जाता तो वह काबू में नहीं आता और कुछ भी हो सकता हैं । लेकिन डीएसपी मनोज कुमार पांडे ने कुख्यात छोटू शर्मा को मौका ही नहीं दिया और दोनों अपराधी को पुरी शक्ति से दबोचने में कामयाब रहें । आर्मी का जिंदा हैंड ग्रेनेड कहां से आया इस संबंध में सिटी एसपी अशोक मिश्रा व डीएसपी मनोज कुमार पांडे जानकारी लेने में जुटे हैं ।

कुख्यात पर तीन हत्या सहित 10 मामले है दर्ज

डेढ़ वर्ष पहले छठ पूजा के समय खिड़ी मोड़ के मेरा गांव में लोजपा नेता की गोली मारकर हत्या कर दिया गया था। इसको कुख्यात छोटू शर्मा ने अंजाम दिया था। नवीन शर्मा में भी मुख्य भूमिका ,छोटू शर्मा का था। इसके साथ छोटू शर्मा अपने गिरोह के लोगों के साथ मिलकर खिड़ीमोड़, पालीगंज, अरवल में कई बड़े घटनाओं को अंजाम दे चुका हैं । छोटू शर्मा , पूर्व के रणबीर सेना कंमाजर अनिल शर्मा का भतीजा है। इसके साथ गिरफ्तार मंटू कुमार अरवल जिले का हैं । अनिल शर्मा की हत्या एक वर्ष पूर्व संदेश ( भोजपुर ) में कर दिया गया था। इसके बाद छोटू शर्मा उर्फ बिजेन्द्र शर्मा एक गिरोह संचालित कर रहा है और अपने चाचा के मरणोपरांत सारे हथियार रखे हुये है। कुख्यात छोटू शर्मा के गिरफ्तारी बाद पुलिस हथियारों के जखीरा के बारे में पुरी जानकारी करने में जुटी हैं ।
loading...
Loading...