पटनाबिहार

मठ के जमीन पर गाड़ा लाल झंडा ,स्वामी रंगनाथाचार्य ने दर्ज कराया एफआईआर ,लगाया सुरक्षा की गुहार

80 हजार रूपये नगद, 20 मन चावल 10 मन गेहूं लूट लेने का लगाया आरोप

>> मठ के जमीन पर अवैध पूर्वक करना चाहते है कब्जा ,कहां  -साजिश के तहत मेरे खिलाफ एफआईआर

पटना ( अ सं)  । नवादा जिले के नरहट स्थित सीताराम मठ के सैकड़ों एकड़ जमीन पर असमाजिक तत्वों ने लाल झंडा गाड़ दिया हैं और स्वामी रंगनाथाचार्य को जान मारने की धमकी दिया हैं । स्वामी जी ने 28 नामजद एवं अन्य अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया हैं । वही नवादा एसपी से सुरक्षा की गुहार लगाया है और तत्काल सरकारी सुरक्षा ( अंगरक्षक ) की मांग किया हैं । वही रंगनाथाचार्य ने एक साजिश के तहत एससी/एसटी धारा का  झूठा एफआईआर करने का आरोप लगाया है और एक वीडियो में प्रस्तुत किया है जिसमें कोई मारपीट या गाली-गलौज नहीं दिखा है। पुलिस दोनों मामले की जांच कर रही हैं ।

सैकड़ों एकड़ पर लाल झंडा

नरहट स्थित सीताराम मठ है जिसके अधिन करीब 400 बिगहा जमीन है। इसके आय से कई कल्याणकारी कार्य किये जाते हैं । इसका मूल स्वामित्व स्वामित्व रंगनाथाचार्य जी हैं । कई असमाजिक तत्वों द्वारा मठ के जमीन को अवैध पूर्वक कब्जा किया जा रहा हैं । कई लोगों ने बिना अनुमति अवैध कब्जा कर घर बना लिया हैं  । जब इसका विरोध ग्रामीणों व स्वामी जी द्वारा किया गया तो असमाजिक तत्वों ने मठ के जमीन पर लाल झंडा गाड़ दिया और जमीन पर किसी तरह का कृषि कार्य करने पर अंजाम भुगतने की चेतावनी दिया हैं । इसके बाद स्थानीय लोग दहशत में हैं ।

एसपी से लगाया सुरक्षा की गुहार

स्वामी रंगनाथाचार्य ने नवादा एसपी को पत्र लिखकर गुहार लगाया है की मठ के जमीन को असमाजिक तत्वों द्वारा कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा हैं । ऐ लोग प्रतिबंधित संगठनों के संपर्क में है। मैं पूर्व में लोकसभा चुनाव भी लड़ा हूं । मेरी जान को खतरा हैं और साजिश के तहत मेरी हत्या भी करायी जा सकती हैं । मुझे तत्काल सुरक्षा उपलब्ध करायी जाएं ।  स्वामी रंगनाथाचार्य ने बताया है की नरहट शक्तिपीठ के अधीन कई शाखाएं अरवल, गया जिले में है और मेरा लगातार भ्रमण कार्य होते रहता है। सुरक्षा के दृष्टिकोण से सरकारी अंगरक्षक उपलब्ध करायी जाएं ।

28 नामजद एवं अन्य अज्ञात पर एफआईआर

 

बीते 12 जुलाई 20 को मठ के जमीन पर असमाजिक तत्वों द्वारा अवैध जमीन कब्जा कर निर्माण कराया जा रहा था । विरोध करने पर सैकड़ों लोग स्वामी रंगनाथाचार्य को घेर लिये है हमला कर दिये । जिसमें किसी तरह जान बची । स्वामी रंगनाथाचार्य ने 28 नामजद एवं अज्ञात के खिलाफ नरहट थाने में लिखित शिकायत एफआईआर हेतु दिया हैं । इसमें आरोपी बनाएं गये मनौअर हुसैन ,राजवंशी, बाबूलाल राजवंशी, राजकुमार राजवंशी, धनराज राजवंशी, दीपक राजवंशी, शौरव राजवंशी, नंदू राजवंशी की पत्नी वाद सदस्य ,जुबेर राजवंशी, पवन राजवंशी, रौशन राजवंशी, गणेश सिंह ,सचिन कुमार ,पोपल सिंह ,विजय कुमार ,नवीन कुमार ,वीपिन कुमार ,रितिक कुमार ,मनौअर हुसैन की बेटी ,धनराज राजवंशी की पत्नी ,राजकुमार राजवंशी की पत्नी ,ज़ुबैर राजवंशी की पत्नी , गणेश सिंह की पत्नी,पोपल सिंह की पत्नी , राजेश सिंह की पत्नी शामिल है ।
loading...
Loading...

Related Articles