अन्य खबर

उत्तर प्रदेश निर्देशानुसार गोवंश की सुरक्षा सुनिश्चित करें – लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी:अतुल सिंह

गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष जसवंत सिंह उर्फ अतुल सिंह ने जिला प्रशासन को पत्र लिखकर अवगत कराया है कि जिला प्रशासन गो वंशीय पशुओं के लिए आवश्यक कदम उठाए । इस कार्य के लिए किसी प्रकार की शिथिलता नहीं होनी चाहिए।

लखनऊ (उत्तर प्रदेश)

उत्तर प्रदेश गौ सेवा आयोग गौ संरक्षण के लिए प्रतिपल समर्पित है। उत्तर प्रदेश सरकार जहां गौ संरक्षण, संवर्धन और गौशाला विकास के लिए नई- नई योजनाएं और कानून लेकर आ रही है वहीं पर गौशालाओं के स्वाबलंबन के लिए भी अभियान आरंभ कर दिया है। फिलहाल , मौजूदा परिस्थितियों से निपटने के लिए आयोग की तरफ से जिला प्रशासन को गो वंशीय पशुओं के सुरक्षा- व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए पत्र जारी किया गया है। गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष जसवंत सिंह उर्फ अतुल सिंह ने जिला प्रशासन को पत्र लिखकर अवगत कराया है कि जिला प्रशासन गो वंशीय पशुओं के लिए आवश्यक कदम उठाए । इस कार्य के लिए किसी प्रकार की शिथिलता नहीं होनी चाहिए।

गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष ने अपने पत्र में लिखा है कि प्रदेश के निराश्रित एवं बेसहारा गोवंश की सुरक्षा हेतु उन्हें अस्थाई गो आश्रय स्थल पहुंचाया जाए ताकि उन पर होने वाले अपराध, तस्करी तथा दुर्घटना से बचाया जा सके। उन्होंने अपने पत्र में पशुओं की आहार व्यवस्था पर उन्होंने बताया कि तमाम सरकारी भूमि खाली होने के बावजूद भी उन पर चारा नहीं उगाया जा रहा है। इस विषय पर जिला प्रशासन को त्वरित कार्यवाही करनी चाहिए ताकि खाली जमीन का उपयोग चारा उत्पादन के लिए किया जा सके। इसी प्रकार उन्होंने अपने पत्र में बिजली,पानी ,बाउंड्री वाल,जल निकास का प्रबंध को भी सुनिश्चित करने की बात कही है।

गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष ने कहा स्थानीय प्रशासन की जिम्मेदारी है कि इस समस्या के निराकरण के लिए तत्काल कार्यवाही करें। उन्होंने अपने पत्र में जिला प्रशासन को गोवंश संरक्षण से संबंधित सभी विभागों के अधिकारियों को सख्त आदेश देने को कहा है। साथ ही साथ जनपद के अधीन संचालित गौशालाओं के संचालकों को निर्देशित करने और संबंधित अधिकारियों को नियमित निरीक्षण करने की परामर्श दी है।

अंत में उन्होंने यह बड़े स्पष्ट तौर पर कहा है कि गौ संरक्षण की कार्यवाही में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को संज्ञान में लिया जाएगा और आवश्यकता अनुसार अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।

********

loading...
Loading...

Related Articles