बिहार

ब्लड प्लाज्मा डोनेशन के लिए बढ़ाएं हाथ, प्रशासन देगा कोरोना योद्धा का सम्मान

Raise hands for blood plasma donation, administration will honor Corona warrior

प्रमंडलीय आयुक्त द्वारा की गई विशेष पहल
कल से शुरु होगा प्लाजमा डोनेशन आॅपरेशन
हर जिलों में प्लाजमा डोनर कोषांग का किया जाएगा गठन
दीपक कुमार सहित 18 लोगों को मिलेगा कोरोना योद्धा का सम्मान

पटना। प्लाजमा डोनेशन के लिए आगे आने वाले लोगों को जिला प्रशासन की ओर से कोराना योद्धा का सम्मान दिया जाएगा। प्लाजमा डोनेट करने वाले को कोरोना योद्धा का प्रशंसा पत्र, स्मृति चिन्ह के साथ थैंक यू कार्ड तथा साल भर के अंदर उनके परिवार के लिए कभी भी ब्लड की आवष्यकता होने पर एक यूनिट ब्लड मिलेगा।

अधिक से अधिक लोग ब्लड प्लाजमा डोनेट कर सकें और कोराना संक्रमित मरीजों की जान बचाई जा सके इसके लिए प्रमंडलीय आयुक्त  संजय कुमार अग्रवाल ने यह विशेष पहल की है। ब्लड प्लाजमा के संग्रहण हेतु पटना प्रमंडलीय आयुक्त  संजय कुमार अग्रवाल ने गुरुवार को सभी जिलों के डीएम और पटना एम्स प्रशासन व डाॅक्टर के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उच्च स्तरीय बैठक की।

इस उच्च स्तरीय बैठक में डीएम पटना कुमार रवि, डीएम रोहतास, नालंदा, कैमूर, बक्सर, भोजपुर, एम्स डायरेक्टर, उपाधीक्षक, नोडल ऑफिसर ब्लड बैंक नेहा सिंह, डॉक्टर वीणा, डॉक्टर संजीव मौजूद थे। सभी जिला पदाधिकारियों ने इस पुनीत कार्य में सहयोग का आश्वासन दिया तथा इसके लिए प्रत्येक करोना विजेताओं से व्यक्तिगत संपर्क के लिए कोषांग गठित करने की जानकारी दीं

प्रमंडलीय आयुक्त ने बताया कि पटना प्रमंडल में शुक्रवार से प्लाजमा डोनेषन आॅपरेषन की शुरुआत की जाएगी। अगले पांच दिनों के लिए 20 ब्लड प्लाजमा डोनर उपलब्ध हो गए हैं। हर जिलों द्वारा रोस्टर के अनुसार प्लाजमा डोनर को पटना एम्स भेजा जाएगा। बैठक के दौरान बक्सर जिलाधिकारी एवं नांलदा जिलाधिकारी द्वारा 5 -5 डोनर उपलब्ध होने की बात कही गई।

प्रमंडलीय आयुक्त ने पटना प्रमंडल के सभी जिलाधिकारियों को अपने जिलों में स्पेशल प्लाजमा डोनर कोषांग का गठन करने का निर्देष दिया है। सभी जिलों का रोस्टर निर्धारित किया जाएगा, जिसके आधार पर जिला पदाधिकारी प्लाज्मा डोनर को ऐम्स पटना भेजेंगे तथा एम्स में उनके प्लाज्मा डोनेशन के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी।

राज्य में पहला प्लाजमा डोनेट करने वाले खाजपुरा, पटना के दीपक कुमार सहित 18 डोनर को जिला प्रशासन द्वारा कोरोना योद्धा का सम्मान दिया जाएगा। पटना के रहने वाले दीपक कुमार ने दो बार प्लाजमा डोनेट किया है। वहीं अब तक 18 लोगों ने प्लाजमा डोनेट कर कोराना संक्रमित मरीजों की जान बचाई है।

एम्स के चिकित्सकों ने बताया वे सभी व्यक्ति जिन्होंने करोना पर विजय प्राप्त की है और 4 हफ्ते हो चुके हैं वह अपना प्लाज्मा डोनेट कर सकते हैं । इससे किसी प्रकार की कमजोरी नहीं आती है एवं इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। अब तक जिन 18 व्यक्तियों ने डोनेट किया है उनके कारण 18 व्यक्तियों की जिंदगी को बचाया जा सका है जिनकी स्थिति काफी क्रिटिकल थी।

loading...
Loading...

Related Articles