लखनऊ

संभलकर चले.. जानलेवा हो गए सड़कों पर बने गड्ढे

लखनऊ। शहर की सड़कों को बेहतर बनाने का दावा भले ही किया जा रहा हो, लेकिन जमीनी हकीकत इससे इतर है। सड़कों के गड्ढामुक्त होने का संकल्प कहीं पूरा होता दिखाई नहीं दे रहा। अधिकांश सड़कें गड्ढों में तब्दील हो चुकी हैं। ऐसे में राहगीरों को आने जाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जी हां हम बात कर रहे कृष्णानगर के पंडित खेड़ा की, जहां पर ओवरब्रिज के नीचे आने वाली सड़क पूरी तरह से टूट गई है और गिट्टियां बिखरी हुई हैं। सड़क पर जगह-जगह बड़े-बड़े गड्ढे बन गए है और इसमें बारिश के पानी से लोग चुटिल हो रहे है। इस सड़क की मरम्मत कब होगी यहां बताना शायद मुश्किल है इसको लेकर लोगों में काफी आक्रोश बढ़ रहा है। भले ही यह दावा किया जाता कि सड़कों की मरम्मत कराई जा रही है, लेकिन सड़कों की हालत देखकर विभाग की पोल खुल जा रही है। इसके बाद भी जिम्मेदार आंख मूंदे हुए हैं लेकिन नगर निगम इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है न ही जिला प्रशासन। गड्ढों में पानी भरने से अक्सर यह पता नहीं चलता कि गड्ढा कितना गहरा है। अगर नजर चूंकि तो बाइक सहित गिर सकते हैं और हो सकता है आपके हाथ-पैर टूट जाए। सड़कों की खराब स्थिति से जिम्मेदार भी रूबरू है क्योंकि हर साल यही सब होता है। गहरे गडढ़ों ने न सिर्फ यातायात की रफ्तार रोकी है बल्कि दोपहिया वाहन चालकों को सफर जोखिम भरा कर दिया है। सड़कों की हालत देखकर आप अंदाजा नहीं लगा सकते है कि सड़कों की मरम्मत की गुणवत्ता कितनी सही है। शहर के निवासियों का कहना है कि कि सड़कों के बदहाल होने से हमेशा दुर्घटना की संभावना बनी रहती है।

loading...
Loading...

Related Articles