टेक मित्र

PM Swanidhi Mobile App: मोबाइल लेने के लिए लोन की आ रहीं दिक्कत तो ये खबर है आपके काम की…

लोगों की सुविधाओं को देखते हुए केंद्र सरकार ने पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि के तहत पीएम स्वनिधि मोबाइल ऐप लांच किया. आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने ये ऐप जारी किया. इस ऐप को शुरू करने का उद्देश्य, स्ट्रीट वेंडरों के लिए लोन अप्लाई करने के प्रॉसेस को आसान बनाना है.

साथ ही लोन देने वाली संस्थाओं और उनके फील्ड में काम करने वाले कर्मचारियों में भी इस डिजिटल इंटरफेस के चलते काफी सहूलियत होगी. प्रधानमंत्री स्वनिधि मोबाइल ऐप, डिजिटल टैक्नॉलाजी के इस्तेमाल को बढ़ावा देने की दिशा में एक कदम है. इस ऐप के जरिए लोन देने वाली संस्थाओं के फील्ड में काम करने वाले कर्मचारियों जैसे बैंकिंग प्रतिनिधि (बीसी) और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC)/माइक्रो-फाइनेंस संस्थानों (MFI) के एजेंटों के जरिए स्ट्रीट वेंडरों तक आसानी से लोन की सुविधा को पहुंचाया जा सकेगा.

माना जा रहा है कि मोबाइल ऐप के जरिए स्ट्रीट वेंडरों को बिना किसी कागजी कार्रवाई के माइक्रो-क्रेडिट सुविधाओं के जरिए आसानी से लोन दिया जा सकेगा. मंत्रालय की ओर इस स्कीम के तहत वेब पोर्टल की शुरूआत 29 जून, 2020 को की गई. इस ऐप में, पीएम स्वनिधि के वेब पोर्टल के जैसी ही सभी सुविधाएं हैं, जिसे आसान पोर्टेबिलिटी की सुविधा के साथ जोड़ा गया है. इनके फीचरों में, सर्वे डेटा में वेंडरों की खोज, लोन के लिए अप्लाई करने के लिए ई-केवाईसी, एप्लीकेशन की प्रोसेसिंग और रियल टाइम मॉनेटरिंग शामिल है.

redmi tarunmitraस्ट्रीट वेंडरों को सस्ते वर्किंग कैपिटल लोन देने के लिए प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना को आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय की ओर से 01 जून, 2020 को जारी किया गया, जिससे कि कोविड-19 लॉकडाउन के कारण बिगड़े हालात के बावजूद स्ट्रीट वेंडर अपना काम फिर से शुरू कर सकें. इस योजना के तहत वेंडर 10,000 रुपये तक का वर्किंग कैपिटल लोन प्राप्त कर सकते हैं, जो एक साल के टाइम में मंथली स्टॉलमेंट में चुकाया जाना है.

Smartphone tarunmitraलोन को समय से चुकाने पर हर वर्ष 7 फीसदी की दर से ब्याज सब्सिडी मिलेगी. यसे सब्सीडी लोन लेने वाले के सीधे खाते में आएगी. इस ऐप को गुगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है. 02 जुलाई, 2020 को पीएम स्वनिधि के तहत लोन देने की प्रक्रिया की शुरूआत होने के बाद से,

phone tarunmitraअबतक अलग अलग राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 1,54,000 से ज्यादा स्ट्रीट वेंडरों की ओर से वर्किंग कैपिटल लोन के लिए आवेदन किया गया है और जिनमें से 48,000 से ज्यादा को मंजूरी दी जा चुकी है.

loading...
Loading...

Related Articles