बिहार

पटना में 18 दिन में 13 डाक्टरों की कोरोना से मौत, पत्रकार ने लिखा पोस्ट

पटना। पटना के वरिष्ठ पत्रकार श्याम नाथ ने आपने फेसबुक वाल से खबर शेयर की, कि डी एम कुमार रवि के करोना पॉजिटिवहै। उन्होंने खुद को आइसोलेट कर लिया है। उनके गले में दर्द और बुखार की शिकायत है। इसके पूर्व जांच में उनके दो रिपोर्ट नेगेटिव आया था।तीसरे रिपोर्ट में कोरोना पॉजिटिव पाया गया। डी एम के सुरक्षाकर्मी एवं गोपनीय शाखा तथा दूसरे विभाग के 70 कर्मचारियों की जांच में 14 लोग पॉजिटिव पाए गए थे।

इधर करोना के कहर का ताजा हाल यह है कि बिहार में 18 दिनों में 13 डॉक्टर कोरोना वायरस के शिकार होकर काल के गाल में समा गए हैं। मरने वाले सभी डॉक्टरों की उम्र 60से 67 वर्ष के बीच थी। समस्तीपुर के सिविल सर्जन डाक्टर आर आर झा 20 जुलाई को करो ना के मुंह में समा गए। पटना के एम्स में 13 जुलाई को गया के डॉक्टर अश्वनी कुमार की मौत हो गई।

अगले दिन 14 जुलाई को ईएनटी स्पेशलिस्ट डॉक्टर के के सिंह नहीं रहे। कल्याण कुमार और अररिया के डॉक्टर जीवन साह 22 जुलाई को मौत के शिकार हो गए ।24 जुलाई को डा अवधेश कुमार सिंह/ सुपौल के डॉक्टर महेंद्र चौधरी, पी एम सी एच के रेडियोलोजी विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष मिथिलेश कुमार सिंह को करोना निगल लिया। 25 जुलाई को मुंगेर के डॉक्टर डी एन चौधरी की मौत हो गई ।30 जुलाई को बिहार में चार डॉक्टरों पूर्वी चंपारण के डॉक्टर नागेंद्र प्रसाद ,मुजफ्फरपुर के मेजर रिटायर्ड डॉक्टर ए के सिंह, मसौढ़ी अनुमंडल अस्पताल के डॉक्टर राजन और दंत चिकित्सक गोविंद प्रसाद भी करोना के कारण इस दुनिया को छोड़ कर चले गए।

loading...
Loading...

Related Articles