सुबह जिस पुल का उद्घाटन नीतीश कुमार को करना था, रात में ही बह गई पुल की अप्रोच रोड

पटना। बिहार में नीतीश कुमार की सुशासन वाली सरकार की पोल खोलने वाली एक और घटना सामने आई है।जिस पुल का उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार को करना था उस पुल की अप्रोच रोड रात में ही बह गई।

आनन-फानन में रोड को ठीक किया गया और फिर नीतीश कुमार ने इसका उद्घाटन किया। दरअसल, नीतीश कुमार बुधवार को गोपालगंज के बंगराघाट पुल का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन करने वाले थे। उद्घाटन बुधवार करीब 11:30 बजे होना था लेकिन पुल से जुड़ी अप्रोच रोड मंगलवार की रात बह गई।

करीब पचास मीटर तक टूटी सड़क को आनन-फानन में ठीक किया गया जिसके बाद नीतीश कुमार ने पुल का उद्घाटन किया। सड़क बहने के बाद विपक्ष के नेता नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हैं। पूर्व सांसद पप्पू यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा है, गोपालगंज में एक और पुल बंगरा घाट महासेतु का एप्रोच पथ उदघाटन से पहले ध्वस्त हुआ! पुल का बार-बार टूटना बिहार में लूट की अंतहीन गाथा का प्रत्यक्ष प्रमाण है अगर CM,PWD मंत्री,अधिकारी एवं वशिष्टा और एस पी सिंगला जैसी कंपनियों की संपत्ति की जांच हो जाय तो सब लुटेरे बेनकाब हो जाएंगे! राजद नेता तेजस्वी यादव ने भी नीतीश सरकार पर निशाना साधा है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है, नीतीश कुमार ने वर्षों से 509 करोड़ की लागत से बन रहे बंगरा घाट पुल का अभी आनन-फानन में उद्घाटन कर दिया लेकिन पुल की अप्रोच पथ टूटी हुई है। टूटे हुए पुलों, पथों और बाँधों के उद्घाटन की इन्हें इतनी जल्दी क्यों है? उद्घाटन से पहले ही पथ टूटना इनके काले भ्रष्टाचार की पोल खोल रहा है? बता दें कि बिहार में अधिकांश नदियां उफान पर है और यह पहली बार नहीं है जब नवनिर्मित सड़क बही है। इससे पहले गोपालगंज के बैकुंठपुर में पिछले महीने गंडक नदी पर बना पुल उद्घाटन के 29 दिन बाद ही बह गया था। 16 जून को इसका उद्घाटन किया गया था।

loading...
Loading...

Check Also

बिहार विधानसभा चुनाव: उपेंद्र कुशवाहा का ऐलान – बसपा और जेपीएस के साथ तैयार किया नया मोर्चा, सबको मिलेगा करारा जवाब

पटना। बिहार विधानसभा चुनावों के ऐलान के बाद सियासी उठापटक जारी है। मंगलवार को रालोसपा …