Thursday, October 1, 2020 at 1:13 PM

थानेदार ने नहर में फेंकवा दी राधा-कृष्ण की मूर्ति, एसओ को किया गया लाइनहाजिर

देवरिया। रामपुर कारखाना थाना क्षेत्र के एक गांव में जन्माष्टमी की पूजा के लिए रखी गई राधा-कृष्ण की मूर्ति को थानेदार ने नहर में फेंकवा की घटना के बाद गांव के लोग नाराज हो गए और सभी ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। घटना की जानकारी के तुरंत बाद जिलाधिकारी अमित किशोर एवं एसपी डॉ श्रीपति मिश्र गांव में पहुंचे। इसके बाद किसी तरह लोगों को समझाकर मामला शांत कराया गया। बाद में आरोपी थानेदार को एसपी ने लाइन हाजिर कर दिया।

बताया जा रहा है कि जन्माष्टमी पर ग्रामीणों ने सार्वजनिक सहयोग से गांव में राधा कृष्ण की मूर्ति रखकर पूजा का आयोजन किया था। ग्रामीणों की मानें तो उन्होंने इसके लिए एसडीएम से परमिशन भी ली थी। आरोप है कि थानेदार जयंत कुमार सिंह पूजन से पहले गांव में गए और पूजा बंद कराने को कहा। ग्रामीणों ने जब विरोध किया तो थानेदार ने मुकदमा दर्ज करने की धमकी देते हुए इसे नहर में फेंकवा दिया। एसओ की दबंगई से ग्रामीणों में आक्रोश फैलने लगा।

एसओ को किया गया लाइनहाजिर
विरोध की जानकारी के बाद डीएम और एसपी गांव में पहुंचे और उचित कार्यवाही का भरोसा देकर किसी तरह ग्रामीणों को शांत किया। बुधवार को इस मामले को लेकर ग्रामीण फिर लामबंद होने लगे। ग्रामीणों का आक्रोश देख कर डैमेज कंट्रोल करते हुए एसपी श्रीपति मिश्र ने आनन-फानन में एसओ को लाइन हाजिर कर दिया है।

एसपी बोले- ग्रामीणों ने फेंकी थी मूर्ति
एसपी ने बताया कि कोरोना के चलते सार्वजनिक स्थानों पर मूर्ति रखने पर प्रतिबंध है। इसलिए थानेदार वहां जाकर मूर्ति हटाने को कहा था, लेकिन विरोध स्वरूप ग्रामीणों ने स्वयं ही मूर्ति नहर में फेंक दिया। फिलहाल थानेदार को हटा दिया गया है और मामले की जांच कराई जा रही है।

 

loading...
Loading...