पटनाबिहार

तस्करी के लिए ले जाया जा रहा मवेशी से भरा कंटेनर धनरूआ में पलटा ,दो दर्जन से ज्यादा की मौत

किरान ( क्रेन ) से उठाकर सभी मरे मवेशियों को नदी में थी फेंकने की तैयारी ,किरान हो गया खराब

>> जेसीबी से गड्ढा खोदकर खपाने की थी तैयारी लेकिन ग्रामीणों ने पोस्टमार्टम की मांग

>> सड़क दुर्घटना के साथ ही अन्य आरोपों की होगी जांच – सिटी एसपी

पटना ( अ सं ) । राज्य के सुदूर ग्रामीण इलाके में एक बड़ा गिरोह मवेशियों की तस्करी में जुटा हैं । इसका खुलासा गुरुवार के अहले सुबह हुई । पटना जिले के घनरूआ थाना क्षेत्र में मवेशियों ( गाय-भैंस ) से भरा कंटेनर पलट गयी । इसमें करीब दो दर्जन से ज्यादा मवेशियों की मौत हो गयी । ग्रामीणों ने आरोप लगाया है की मवेशियों के तस्करी का खेल लंबे समय से चल रहा हैं । पुलिस -प्रशासन जानकर भी कुछ नहीं करती । पटना सिटी एसपी (पूर्वी ) ने बताया की सड़क दुर्घटना में कंटेनर पलटने से जानवरों की मौत हुई हैं । पशुपालन विभाग के पदाधिकारी को सूचित कर दिया गया है उनके निगरानी में पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार की कार्रवाई की जाएगी । अन्य जो भी आरोप की बातें है पुलिस इसपर जांच कर कार्रवाई करेगी ।

ग्रामीणों ने किया विरोध ,नागमणी पहुंचे मौके वारदात

सड़क दुर्घटना में मवेशियों से भरा कंटेनर पलटने के बाद तस्करी में जुटा व्यक्ति उसे खपाने में जुटा था लेकिन समय ने उसका साथ नहीं दिया और सुबह हो गयी । जैसे ही लोगों को घटना की जानकारी मिली लोग दौड़े-दौड़े घटना स्थल पहुंचे । रात्रि में किरान गड़बड़ हो गयी जिसके कारण नदी में मृत मवेशियों के फेंकने का प्लान फेल कर गया ।सुबह पहर जेसीबी मंगवाकर बिना पोस्टमार्टम किये ही मृत मवेशियों को मिट्टी खोदकर खपाया जा रहा था की ग्रामीणों ने विरोध कर दिया । कई गौ-रक्षक पहुंच गये और इसका विरोध करने लगे और तस्करी में जुटे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। शिवसेना के प्रदेश महासचिव नागमणी भी मौके वारदात पर पहुंचे हैं और अविलंब जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग किये हैं ।

देवदहा गांव के पास पलटा कंटेनर

धनरूआ के देवदहा गांव के बास मवेशियों से भरा कंटेनर पवट गया । इसमें करीब दो दर्जन से ज्यादा मवेशी ( गाय-भैंस ) मरने की बात सामने आ रही हैं । रात्रि में ही तस्करी से जुटे लोग कंटेनर को उठाने की पुरी कोशिश किया ,लेकिन असफल रहे । जैसा की सुत्र बताता है अगर किरान(क्रेन ) खराब नहीं होता तो मृत सभी जानवरों को नदी में फेंक दिया जाता । जिस व्यक्ति का यह कंटेनर पलटा है वह जानवरों की तस्करी से करोड़ों रूपये का काला धन इकट्ठा किया हैं और सबकुछ मैनेज कर चलता हैं ।
loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button