मथुरा

150 परिषदीय विद्यालयों के बच्चों को दिये जाएंगे 8000 फलदार पौधे, पौधे रोपने से बच्चों में आयेगी पर्यावरण के प्रति जागरूकताः जितेन्द्र

मथुरा। बच्चे जब खुद पौधे रोपेंगे और उनके देखभाल करेंगे तो उनके अंदर पर्यावरण को के प्रति सकारात्मक सोच भी विकसित होगी। भक्तिवेदांत मार्ग स्थित अक्षयपात्र एवं खुशहाली फाउंडेशान ने जनपद के फरह, बल्देव, छाता, कोसी, गोवर्धन एवं राया क्षेत्रों के 150 परिषदीय विद्यालयों में 8000 फलदार पौधे बच्चों को सौंपने का अभियान शुरू किया है।

अभियान के पहले दिन मथुरा और फरह ब्लाॅक के 36 विद्यालयों के 1800 बच्चों को अमरूद, जामुन, पापडी, और नीबू के पौधे दिये गये। कार्यक्रम संयोजक जितेन्द्र शर्मा ने बताया कि पूरा विश्व ग्लोबल वार्निंग की समस्या से जूझ रहा है।

इसके लिए हमारे बच्चों द्वारा पौधे रोपकर पर्यावरण संरक्षण का प्रयास होगा। जब बच्चे अपने हाथों से पौधा रोपेंगे, उसका खयाल रखेंगे और पौधा बडा होगा तो उसके फल चखेंगें, ऐसे में बच्चों के अंदर प्रकृति प्रेम और पर्यावरण के प्रति जागरूकता का समावेश होगा।

खुशहाली फाउंडेशन के नितीश कुमार ने संस्था के बारे में बताया कि संस्था पिछले दस सालों से किसानों के लिए काम कर रही है। संस्था द्वारा पौधा वितरण करने के पीछे मुख्य उद्देश्य बच्चों को प्रकृति प्रेमी बनाना है। इस अवसर पर शासकीय विद्यालयों के प्रधानाध्यापक, अध्यापक, अध्यापिकाएं मौजूद रहेे।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button