Monday, October 19, 2020 at 1:40 AM

बिहार की जनता ने नीतीश सरकार को उखाड़ फेंकने का प्रण लिया है- एनसीपी

पटना। बिहार प्रदेश राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सभी जिलाध्यक्षोंध, प्रदेश के सभी मोर्चा संगठन के अध्यक्षों प्रकोष्ठ के अध्यक्ष एवं पूर्व पदाधिकारियों एक बैठक को संपन्न हुई। जिस में मुख्य रुप से पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के के शर्मा और पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और बिहार के प्रभारी आदरणीय राजीव झा को मुख्य रूप से उपस्थित थे। ज्यादातर जिला अध्यक्ष और प्रदेश के पदाधिकारियों की राय उभरकर आई कि बिहार और देश में सांप्रदायिक शक्तियों को कमजोर करने के लिए पार्टी को बिहार विधानसभा का चुनाव राजद कांग्रेस व अन्य सेकुलर विचारधारा वाले दलों के साथ मिलकर लड़ना चाहिए।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी एक राष्ट्रीय पार्टी है बिहार में हमारा संगठन काफी मजबूत है अतः गठबंधन में हमारी सम्मानजनक उपस्थिति होनी चाहिए संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के के शर्मा ने कहा कि हमारे नेता शरद पवार जी की विचारधारा हमेशा देश में सांप्रदायिक सौहार्द को बनाए रखने की रही है। सेकुलर दलों को एकजुट होकर चुनाव में उतरना होगा तभी हम बिहार में सांप्रदायिक शक्तियों को प्राप्त कर पाएंगे। 2015 के पिछले विधानसभा चुनाव में विपक्षी दलों को एकजुटता के कारण ही करारी हार का सामना करना पड़ा था।

मगर नीतीश कुमार ने छल से बिहार की जनता के साथ विश्वासघात किया और भाजपा के में मिल गए संवाददाताओं को संबोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और बिहार के सह प्रभारी राजीव झा ने कहा कि एनसीपी की विचारधारा स्थापना काल से ही आरएसएस और बीजेपी के खिलाफत की रही है। शरद पवार ने हमेशा ही इन ताकतों के खिलाफ संघर्ष किया है महाराष्ट्र जिसका उज्जवल उदाहरण है। नीतीश कुमार ने जिस प्रकार 15 वर्षों के अपने शासनकाल में बिहार को विकास से कोसों दूर कर दिया आधा बिहार बाढ़ और आधा बिहार सुखार से त्रस्त रहता है शिक्षा की दुर्गति जितनी इन 15 वर्षों में हुई उतनी आबादी के बाद कभी नहीं हुई बिहार में बेरोजगारी चरम पर है। चीनी उद्योग तथा बिहार के पुराने सभी कारखानों बर्बाद हो गए। बिहार में अपराध बेलगाम है। बिहार की जनता ने नीतीश सरकार को उखाड़ फेंकने का प्रण लिया है और एनसीपी उसे अंजाम तक पहुंचाएगी।

loading...
Loading...