Monday, October 19, 2020 at 12:30 AM

संत कबीर नगर, भ्रष्टाचार पर सख्त हुई डीएम 05 पर मुकदमा दर्ज

संतकबीरनगर। जिलाधिकारी श्रीमती दिव्या मित्तल जाॅच में भ्रष्टाचार की पुष्टि होने पर कड़ा रूख अख्तियार करते हुए ग्राम प्रधान सहित 5 लोगो के विरूद्व धोखाधड़ी, जालसाजी व सरकारी धन गबन सहित अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कराया है। उन्होने देर रात जानकारी देते हुए बताया कि शिकायत प्राप्त हुआ था कि जनपद के साथा ब्लाक के ग्राम सिकरी में मनरेगा जाबकार्ड धारको के स्थान पर दूसरे का खाता खुलवाकर सरकारी धन का दुरूपयोग किया गया है। जिसकी जाॅच उन्होने टीम गठित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी को दिया था। जाॅचोपरान्त में सिद्व हुआ कि वित्तीय वर्ष 2019-20 एवं 2020-21 में मनरेगा योजनान्तर्गत कराये गये कार्यो में रैण्डमली 11 कार्यो की वेजलिस्ट का सत्यापन पूर्वाचल ग्रामीण बैंक, धर्मसिंहवा में जाकर किया गया। यह पाया गया कि वेजलिस्ट में जिन जाब कार्ड धारको के नाम अंकित है। उनके समक्ष अंकित खाता संख्या दूसरे व्यक्ति का है। इस तरह इन ग्यारह कार्यो में रू0 2 करोड़ 3 लाख 44 हजार 49 रूपया का दुर्विनियोग पाया गया। जिलाधिकारी श्रीमती दिव्या मित्तल ने बताया कि करोड़ो रूपये के भ्रष्टाचार में ग्राम प्रधान श्रीमती सामिना खातून, प्रधान प्रतिनिधि जावेद अहमद तत्कालीन ग्राम पंचायत अधिकारी असदुल्लाह, ग्राम रोजगार सेवक, गिरधारी लाल तथा ग्राहक सेवा केन्द्र संचालक परवेज अहमद द्वारा मिली भगत से किया गया है। अभियुक्तो के विरूद्व धर्मसिंहवा थाने में मुकदमा पंजीकृत कर गिरफ्तारी का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी दिव्या मित्तल ने कहा कि किसी भी दशा में भ्रष्टाचार बर्दाश्त नही किया जायेगा। जाॅचोपरान्त कार्यवाही अवश्य की जायेगी।

loading...
Loading...