Saturday, October 17, 2020 at 7:58 AM

कुल मिलाकर ऐसा कारनामा तीन बार कर चुके हैं विराट कोहली…गेल-सहवाग को छोड़ा पीछे

नई दिल्ली। दुबई में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 के 25वें मैच में शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने कप्तान विराट कोहली की 52 गेंद में नाबाद 90 रन की आक्रामक अर्धशतकीय पारी के दम पर चेन्नई सुपर किंग्स को 37 रनों से हरा दिया।

कोहली ने अपनी पारी के दौरान चार चौके और चार छक्के जमाए। उन्होंने सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडीक्कल (34 गेंद में 33 रन, दो चौके और एक छक्का) के साथ दूसरे विकेट के लिए 53 रन और फिर शिवम दुबे (नाबाद 22) के साथ पांचवें विकेट के लिए नाबाद 76 रन की भागीदारी की।

इस अहम मुकाबले में टीम को अपनी पारी की मदद से जीत दिलाने वाले कप्तान विराट कोहली ने एक रिकॉर्ड भी अपने नाम दर्ज किया। टीम इंडिया के कप्तान आईपीएल में 90 से 100 रनों के बीच नॉटआउट रहने के मामले में शीर्ष पर पहुंच गए हैं।

इसमें चेन्नई के खिलाफ 52 गेंदों में खेली गई 90 रनों की नाबाद पारी भी शामिल है। इसके बाद कोहली कुल मिलाकर आईपीएल में ऐसा कारनामा तीन बार कर चुके हैं और अब वे इस लिस्ट में दिल्ली कैपिटल्स के बल्लेबाज शिखर धवन के साथ टॉप पर काबिज हैं।

आईपीएल के 13वें सीजन को जोड़कर देखा जाए, तो इस टूर्नामेंट के इतिहास में अब तक ऐसे कुल 31 मामले हैं, जहां 22 बल्लेबाज 90 से 100 रनों के बीच नॉटआउट रहे हैं। इस लिस्ट में विराट कोहली और शिखर धवन के बाद किंग्स इलेवन पंजाब के क्रिस गेल और राजस्थान रॉयल्स के जोस बटलर का नाम आता है, जो 2-2 बार ऐसा करने में सफल रहे हैं।

90 के स्कोर पर पहली बार नॉटआउट रहने का यह कारनाम विराट कोहली ने 2013 के आईपीएल में किया था। इस सीजन के एक मैच में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ खेलते हुए कोहली 93 रनों की नाबाद पारी खेली थी और अपना शतक लगाने से चूक गए थे। इसके बाद एक अन्य मैच में कोहली ने मुंबई इंडियन्स के खिलाफ 92 नाबाद रन बनाए थे।

बल्लेबाज 90 से 100 के बीच नॉटआउट रहने की संख्या
विराट कोहली 3
शिखर धवन 3
वीरेंद्र सहवाग 2
शेन वॉटसन 2
क्रिस गेल 2
डेविड वॉर्नर 2
जोस बटलर 2
नमन ओझा 1
माहेला जयवर्धने 1
सुरेश रैना 1

शनिवार के मैच में कोहली ने चेन्नई के खिलाफ पारी के 14वें ओवर की दूसरी गेंद पर रविंद्र जडेजा पर एक रन लेकर इंडियन प्रीमियर लीग में 6000 रन भी पूरे किए। रन गति थोड़ी बढ़नी शुरू हुई। कोहली ने अगले ओवर की शुरूआत सैम कुरेन की गेंद को छक्के के लिए उठाकर की। पर कुरेन ने एक गेंद के बाद सुंदर को विकेटकीपर के हाथों कैच आउट कराया जिन्होंने 10 गेंद में एक छक्के से इतने ही रन बनाए। कोहली ने 17वें ओवर की अंतिम गेंद पर शारदुल ठाकुर की गेंद को बैकवर्ड स्क्वायर लेग में चौके के लिए भेजकर 39 गेंद में अपना 38वां आईपीएल अर्धशतक पूरा किया। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने अंतिम पांच ओवरों में 74 रन जोड़े, उसके लिए 18वां ओवर रनों के लिहाज से शानदार रहा जिसमें तीन छक्के से 24 रन बने। इसमें से दो छक्के कोहली ने जमाए। शिवम दुबे दूसरे छोर पर कोहली के साथ डटे रहे जिससे दोनों ने टीम को 169 रन के स्कोर तक पहुंचाया।

इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स ने सलामी बल्लेबाज शेन वाटसन (14) और फाफ डु प्लेसिस (आठ) के विकेट पॉवरप्ले में ही गंवा दिये। दोनों के विकेट सुंदर ने लिए। टीम का 10 ओवर के बाद स्कोर दो विकेट पर 47 रन था। एन जगदीशन का रन आउट होना फाफी हैरानी भरा था क्योंकि उनके पास दूसरे छोर तक पहुंचने का काफी समय था, लेकिन उन्हें शायद लगा कि वह आउट नहीं हो सकते। अब कप्तान धोनी (10 रन) उतरे। उन्होंने दूसरी गेंद पर चहल पर छक्का जड़ दिया जिससे चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने 100 रन भी पूरे किए। पर इसी 16वें ओवर में गुरकीरत सिंह को कैच देकर आउट हो गए।

सैम कुरेन खाता भी नहीं खोल सके थे कि मौरिस की गेंद उनके बल्ले के किनारे को छूती हुई विकेटकीपर डिविलियर्स के हाथ में चली गई। हालांकि इस पर फैसला रिव्यू के बाद ही हुआ जिसमें कुरेन को आउट करार दिया गया।

loading...
Loading...