Friday, December 4, 2020 at 10:00 PM

चुनाव आयोग का फरमान- ज्‍योतिषियों द्वारा चुनाव नतीजों की भविष्‍यवाणी कानून का उल्‍लंघन

नई दिल्‍ली। चुनाव आयोग ने एक नया फरमान जारी किया है। आगामी चुनावों को देखते हुए चुनाव आयोग ने स्‍पष्‍ट किया है कि निषिद्ध अवधि में कोई भी ज्‍योतिष चुनावा परिणामों की घोषणा करेगा तो वह कानून का उल्‍लंघन होगा। चुनाव आयोग ने मीडिया में नतीजों की भविष्यवाणी पर बैन को लेकर पुराने दिशानिर्देश दोहराते हुए प्रेस रिलीज़ जारी की है। बकौल आयोग, ज्योतिषियों, टैरो रीडर्स, राजनीतिक विश्लेषकों या किसी अन्य द्वारा इस दौरान चुनाव नतीजों की भविष्यवाणी निर्वाचन संबंधी कानून का उल्लंघन है। बिहार चुनाव के लिए यह अवधि 28 अक्टूबर-7 नवंबर शाम 6.30 बजे है।

loading...
Loading...