Saturday, October 17, 2020 at 10:27 PM

अतिक्रमणकारियों ने दौड़ाया, ताना गुलेल ! वनकर्मी जान बचाकर भागे चकरधट्टा थाने, 8 लोगों के विरुद्ध वन अपराध का मामला दर्ज

अशोक जायसवाल 

नौगढ़/ चन्दौली, आरक्षित वन भूमि पर खेती करने हेतु हल चलाए जाने से मना करने पर वन कर्मियों के साथ दुर्व्यवहार किए जाने के मामले में वन विभाग ने शनिवार को दानौगढ़ा गांव के 8 लोगों के विरुद्ध चकरघट्टा थाने में तहरीर दिया है। वन क्षेत्राधिकारी मझगांई इमरान खान ने बताया कि मुकदमा दर्ज कराने के साथ ही अतिक्रमणकारियों के विरुद्ध भारतीय वन्य जीव संरक्षण 1972 की धारा 9/5 एवं लोक संपत्ति क्षति निवारण अधिनियम 1984 के विभिन्न धाराओं में वन अपराध का मामला भी दर्ज किया गया है। काशी वन्यजीव प्रभाग रामनगर के मझगाईं रेंज में कुछ लोग चकरघट्टा वीट के भैसौडां कंपार्टमेंट नंबर 16 मे खेती करने हेतु प्राकृतिक वनस्पतियों और झाड़ियों को साफ करने के बाद हल चला रहे थे। गांव वालों ने इसकी सूचना जिलाधिकारी और वन विभाग के उच्चाधिकारियों को दीया। वनक्षेत्राधिकारी इमरान खान ने टीम बनाकर वनरक्षक प्रसिद्ध प्रसाद ,शिवपाल चौहान ,सतेंद्र गुप्ता, सतगुरु वर्मा व अन्य वनकर्मियोंको मौके पर भेजा तो अतिक्रमणकारी लामबंद होकर हाथ में गुलेल लेकर खड़े हो गए और जान से मारने की धमकी देते हुए नारेबाजी करते हुए दौड़ा लिया। वन कर्मी अपनी जान बचाकर हांफते भागते थाना चकरघट्टा पहुंचे। वन विभाग ने थाना पहुंचकर नामजद दानौगढां गांव के 8 अतिक्रमणकारियों के विरुद्ध तहरीर दिया है जबकि भारतीय वन्यजीव संरक्षण 1972 एवं लोक संपत्ति क्षति निवारण अधिनियम 1984 की विभिन्न धाराओं में वन अपराध का मामला भी विभाग ने दर्ज किया है। थानाध्यक्ष राजेश सरोज ने बताया कि मामले की जांच हो रही है मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

loading...
Loading...